नेशनल हरियाणा

लंबी लाईन लगने पर अब नहीं देना होगा टोल!

टोल टैक्स पर लंबी लाईन लगना आम बात है। कई बार तो लोगों को टोल टैक्स पर खडे हुए आधे घंटे से ज्यादा समय बीत जाता है। ऐसे में बीच में कईं बार अफवाह भी उडी कि टोल टैक्स पर अगर आपको तीन मिनट से अधिक खडा रहना पड रहा है तो आप बिना टोल टैक्स दिए बिना जा सकते हैं। लेकिन एनएचएआई(राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण)  ने इस खबर को झूठा करार दिया और ऐसा कोई प्रावधान होने से साफ इंकार किया। लेकिन अब जो खबर सामने आई है उसके अनुसार अब 70 मीटर से अधिक लंबी लाईन लगने पर टोल कंपनी को टोल फ्री करना होगा।

दरअसल हरियाणा के उद्योग और पर्यावरण मंत्री विपुल गोयल दिल्ली और फरीदाबाद के बीच पडने वाले बदरपुर टोल प्लाजा से गुजर रहे थे। यहां उन्हें वीआईपी लाईन से गुजरने में भी 15 मिनट का समय लग गया। मंत्री जी ने लोगों की परेशानी को देखते हुए तुरंत टोल फ्री कराया और कंपनी के कर्मचारियों को अपने नियम तय करने और बोर्ड पर लिखने का निर्देश दिया। मंत्री जी के इस कदम से लोगों को कुछ समय के लिए टोल और जाम से राहत मिली। लेकिन ये बस फौरी राहत थी। मंत्री जी ने टोल कंपनी और एनएचएआई के कर्मचारियों के लिए एक मीटिंग रखी।

क्या नियम किए गए हैं तय-

हरियाणा के उद्योग मंत्री विपुल गोयल ने इस संबध में राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अधिकारियों के साथ एक बैठक में हिस्सा लिया। बैठक में जिला प्रशासन, नगर निगम और हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के अधिकारी भी शामिल हुए। बैठक में तय किया गया कि लोगों को टोल नाकों पर लंबे जाम से राहत देने के लिए सत्तर मीटर लंबी लाइन लगने पर कार और दूसरे वाहनों को मुफ्त निकाला जाएगा। ये बैठक बीते शुक्रवार को हरियाणा के फरीदाबाद के सेक्टर 16 ए के सर्किट हाउस में बीते शुक्रवार को हुई थी।

किन टोल प्लाजा पर होगा ये नियम लागू-

बैठक के बाद जानकारी देते हुए विपुल गोयल ने बताया कि बदरपुर, गुड़गांव और पलवल टोल प्लाजा पर यदि 70 मीटर से लंबा जाम लगता है तो वहां टोल नाके से लाइन में लगी गाडिय़ों के लिए मुफ्त मे निकासी करवानी होगी। प्रत्येक टोल नाके पर इसके लिए 70 मीटर की दूरी पर निशान भी बनाया जाएगा।

एनएचएआई के अधिकारियों ने उद्योग मंत्री को भरोसा दिलाया कि टोल पर टैक्स की पर्ची काटने के लिए कर्मचारियों को ट्रेनिंग भी दी जाएगी ताकि उनके काम में तेजी आ सके। साथ ही नए कर्मचारियों की भर्ती भी की जाएगी ताकि जाम की स्थिति में एक से ज्यादा कर्मचारी टोल पर्ची काट सकें। विपुल गोयल ने कहा कि एनएचएआई को सभी टोल पर उन्होने नियमों का बोर्ड लगाने के भी निर्देश दिए हैं। उन्होने कहा कि एक हफ्ते के अंदर ये सभी काम पूरे हो जाएंगे और लोगों को राहत मिलेगी।

आपको बता दें कि ये नियम अभी बदरपुर, पलवल और गुडगांव और फरीदाबाद के बीच पडने वाले टोल प्लाजा पर ही लागू किया जाएगा। इसके अलावा अभी इस बैठक के बाद एनएचएआई की तरफ से अभी कोई बात सामने नहीं आई है। इसके बाद ही तय हो पाएगा कि ये नियम बाकी टोल प्लाजा पिर भी लागू हो पाएगा या नहीं। या फिर इन टोल प्लाजा पर भी इन्हें लागू करने में कोई अडचन है क्या। क्योंकि बदपुर और पलवल टोल प्लाजा एनएचएआई के अधीन हैं।

dastak
Dastak India Editorial Team
http://dastakindia.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *