आलोक वर्मा को सीबीआई प्रमुख के पद से हटाया गया

0
CBI, Director Alok Verma, Supreme Court, PM Narendra Modi, Rakesh Asthana
Photo : Twitter

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली उच्च स्तरीय चयन समिति की बैठक के बाद आलोक वर्मा को सीबीआई प्रमुख के रूप में हटा दिया गया है। अधिकारियों ने कहा कि वर्मा, 1979 बैच के एजीएमयूटी कैडर के आईपीएस अधिकारी को भ्रष्टाचार के आरोपों में हाई-प्रोफाइल पद से हटा दिया गया है। एजेंसी के इतिहास में वो पहले प्रमुख है जिन्हें ऐसे हटाया गया है। ऐसा कहा जा रहा है कि इस मामले को लेकर वो राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग में जा सकते हैं।

समिति के समक्ष पेश की गई सीवीसी रिपोर्ट में उनके खिलाफ आठ आऱोप थे। समिति में लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे और न्यायमूर्ति ए के सीकरी शामिल थे, जिन्हें भारत के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई ने अपना उम्मीदवार बनाया था। सीबीआई के पद से हटाने के फैसले में न्यायमूर्ति ए के सीकरी और प्रधानमंत्री मोदी ने फेवर में वोट किया वहीं खड़गे ने इस कदम का विरोध किया था। लेकिन 2-1 की बहुमत से य़ह फैसला हुआ।

इससे पहले, सीबीआई के निदेशक आलोक वर्मा को 23 अक्टूबर, 2018 को केंद्र सरकार द्वारा एक आलोचनात्मक देर-रात आदेश के माध्यम से जबरन छुट्टी पर भेज दिया गया था।  77 दिन बाद बुधवार को उन्होंने ऑफिस ज्वाइन किया था।अक्टूबर के आदेश में वर्मा और उनके उप-विशेष निदेशक राकेश अस्थाना पर एजेंसी द्वारा भ्रष्टाचार के आरोप लगाए गए थे।

Leave a Reply