हरियाणा: गन्नौर के देवडु गांव के लोग महंगी बिजली और चालान के बढ़े दामों से है परेशान

Updated On: Oct 11, 2019 12:51 IST

Jyoti Chaudhary

हरियाणा की गन्नौर विधानसभा के अंतर्गत आने वाले देवडु गांव के लोग बीजेपी सरकार से काफी नाराज हैं। यहां के लोग महंगी बिजली, ट्रैफिक चालानों के बढ़े दाम और गांव को नगर निगम में शामिल करने जैसी समस्याओं से बहुत परेशान है। वहीं, इस गांव के लोगों को शक है कि बीजेपी सरकार ईवीएम मशीन के साथ छेड़छाड़ करती है। इन्हीं समस्याओं और मुद्दों को विस्तार से जानने के लिए ‘दस्तक इंडिया’ की टीम देवडु गांव पंहुची, जहां हमने लोगों से इस पर विस्तार से बातचीत की।

देवडु गांव में ज्यादातर लोग किसान और मजदूर है, जिससे इस गांव को कमर्शियल यानी नगर निगम में  करने से वहां के लोगों को काफी दिक्कतें हो रही है। उनका कहना है कि हाउस टैक्स के नाम पर उनको भारी-भरकम बिल थमा दिया जाता है, जिससे आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को परेशानी होती है। यही नहीं, गांव को नगर निगम में शामिल करने के बाद से निगम द्वारा वहां साफ़-सफाई भी नहीं करवाई जाती।

साथ ही, यहां के लोगों को शक है कि चुनावों के दौरान ईवीएम मशीन से छेड़छाड़ की जाती है। लोगों का कहना है कि आगामी विधानसभा चुनावों में भी ईवीएम मशीन से छेड़छाड़ की जा सकती है। उनका आरोप है कि पहले भी ईवीएम मशीन से छेड़छाड़ नहीं की गई होती तो सोनीपत में कांग्रेस पार्टी ही जीतती। इतना ही नहीं, लोगों ने हाल ही में हुए लोकसभा चुनावों में बीजेपी सरकार द्वारा ईवीएम मशीन के साथ छेड़छाड़ करने का भी शक जताया।

वहीं, इस गांव के लोगों की एक अन्य समस्या है बिजली के बढ़ते दाम। लोगों का कहना है कि बिजली के बिल दोगुना हो गए है। साथ ही, बिजली के समय में भी कटौती की गई है। इस गांव में जो बिजली 18 घंटे आती थी वो अब बहुत ही कम समय के लिए उपलब्ध कराई जाती है।

साथ ही, इस गांव के स्थानीय लोगों के लिए इस समय ट्रैफिक चलानों की बढ़ी दरें एक सबसे समस्या है। उनका कहना है कि सरकार ने 10 गुना चलान के रेट बढ़ाकर सही नहीं किया। वहीं, लोगों की मांग है कि अगर सरकार पहले विदेश जैसी सुविधाएं सड़क देती है उस के बाद ही चालान के रेट इतने गुणा बढ़ाएं।

देश की पहली प्राईवेट ट्रेन तेजस एक्सप्रेस के विरोध के पीछे क्या है कारण?

यहां देखें खास रिपोर्ट...

ताजा खबरें