CBSE बोर्ड एग्जाम के लिए सभी कैटेगरी के स्टूडेंट्स को देनी होगी दोगुना फीस

Updated On: Aug 12, 2019 09:52 IST

Jyoti Chaudhary

सीबीएसई (केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड) ने बोर्ड एग्जाम फीस को लेकर फैले कन्फ्यूजन को दूर किया है। दरअसल, सीबीएसई ने अपने बयान में कहा है कि बोर्ड फीस में की गई बढ़ोतरी सिर्फ दिल्ली के लिए नहीं बल्कि पूरे देश के लिए है। साथ ही, सीबीएसई ने दावा किया कि उसने पांच साल के अंतराल के बाद फीस बढ़ाई है।

सीबीएसई के बयान के मुताबिक, 'भारत में सीबीएसई से मान्यता प्राप्त स्कूलों के सभी वर्ग के स्टूडेंट्स की फीस बढ़ाई गई है। सभी सामान्य कैटिगरी स्टूडेंट्स की एग्जाम फीस 750 रुपये से बढ़ाकर 1,500 रुपये कर दी गई है। साथ ही, SC/ST वर्ग के छात्रों का परीक्षा शुल्क 50 रुपये से बढ़ाकर 1,200 रुपये कर दिया है। वहीं, दृष्टि बाधित स्टूडेंट्स से कोई फीस नहीं वसूली जाएगी।'

https://twitter.com/ANI/status/1160598113482104843

बता दे एग्जाम फीस में की गई इस वृद्धि से पहले SC/ST वर्ग के स्टूडेंट्स को सभी विषयों के लिए 350 रुपये का भुगतान करना पड़ता था, जिसमें से 300 रुपये दिल्ली सरकार सीबीएसई को देती थी। वहीं, सामान्य कैटिगरी स्टूडेंट्स की एग्जाम फीस 750 रुपये थी।

कश्मीर में अब जल्द खुलेगा IIM का ऑफ-कैंपस, केंद्र सरकार ने दी मंजूरी

वहीं, सीबीएसई के इस कदम से उसकी फीस अन्य केंद्रीय बोर्ड जैसे एनआईओएस की फीस के आसपास पहुंच गई है। एनआईओएस 10वीं के छात्रों से 1800 रुपये और छात्राओं से 1450 रुपये लेता है। जबकि एससी/एसटी वर्ग के छात्रों के लिए फीस 1200 रुपये है। वहीं 12वीं के छात्रों से एनआईओएस 2000 रुपये, छात्राओं से 1750 रुपये और एससी/एसटी वर्ग से 1300 रुपये लेता है। जबकि एडिश्नल सब्जेक्ट्स के लिए छात्र-छात्राओं को 720 रुपये देने पड़ते हैं।

आतंकी मसूद अजहर ने दी धमकी, कहा- कश्मीर को लेकर कभी नहीं पूरा होगा सपना

ताजा खबरें