CBSE ने 'मैथ्स' का बोझ कम करने का लिया फैसला, 10वीं कक्षा के लिए होंगे दो स्तरीय एग्जाम

Updated On: Jan 11, 2019 14:56 IST

Jyoti Chaudhary

Photo : Twitter

सीबीएसई से दसवीं करने वाले छात्रों के लिए एक खुशखबरी आई है। 'मैथ्स' जैसे कठिन सब्जेक्ट से अब छात्रों को डरने की कोई जरूरत नहीं है क्योंकि सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंड्री एजुकेशन ने दसवीं कक्षा के छात्रों के लिए दो स्तरीय एग्जाम कराने का फैसला लिया है। इस बदलाव को 2020 तक लागू किया जाएगा। सीबीएसई ने एक सर्कुलर जारी करते हुए कहा कि यह बदलाव छात्रों के सिर से सबसे कठिन सब्जेक्ट 'मैथ्स' के तनाव को कम करने के लिए किया गया है।

इस बात की जानकारी न्यूज़ एजेंसी ने ट्वीट कर दी है। इसके मुताबिक, सीबीएसई) ने दसवीं कक्षा के छात्रों के लिए दो स्तरीय एग्जाम कराने का फैसला लिया है। इस बदलाव को 2020 तक लागू किया जाएगा। साथ ही, ये भी साफ़ किया कि वर्तमान स्तर और गणित का पाठ्यक्रम समान रहेगा।

https://twitter.com/ANI/status/1083618234694160384

खबरों की माने तो, इस नए बदलाव के तहत अगले साल 2020 से 10वीं कक्षा में मैथ के दो स्तरों की पढ़ाई शुरू की जाएगी और इसकी परीक्षा भी दो स्तर पर कराई जाएगी। हालांकि नौवीं कक्षा में कोई ऐसा बदलाव नहीं किया जाएगा। सीबीएसई के आधिकारिक बयान के मुताबिक पहले स्तर पर कोई बदलाव नहीं होगा लेकिन दूसरा लेवल कुछ आसान होगा।

ISRO चेयरमैन ने किया ऐलान, 2021 तक पूरा करेंगे गगनयान मिशन

गणित के मौजूदा लेवल को मैथमेटिक्स स्टैंडर्ड लेवल कहा जाएगा वहीं आसान लेवल को बेसिक मैथमेटिक्स कहा जाएगा। छात्र इन दो लेवल में से मैथ के लेवल का चुनाव कर सकते हैं। यह चुनाव अक्टूबर या नवंबर महीने में किया जा सकेगा।

ताजा खबरें