दिल्ली प्राइवेट स्कूलों की मनमानी पर लगी रोक, लौटानी होगी अतिरिक्त फीस

दिल्ली सरकार ने प्राइवेट स्कूलों की मनमानी को ध्यान में रखते हुए ट्यूशन फीस के अलावा बाकी सभी फीसों पर पाबंदी लगा दी है। फीस को लेकर दिए गये आदेश को

Updated On: Sep 1, 2020 11:45 IST

Dastak Web Team

Photo Source: Google

दिल्ली सरकार ने प्राइवेट स्कूलों की मनमानी को ध्यान में रखते हुए ट्यूशन फीस के अलावा बाकी सभी फीसों पर पाबंदी लगा दी है। बता दें कि डायरेक्टर ऑफ एजुकेशन ने 18 अप्रैल को आदेश जारी किया था, जिसके तहत सभी स्कूलों को केवल ट्यूशन फीस चार्ज करने के निर्देश दिए गए थे। जिसके बाद दिल्ली में इसकी अवधि को बढ़ाते हुए इस आदेश को बरकरार रखा गया है। इसके अलावा जिन छात्रों से पहले ही फीस ले ली गई थी। उसे आने वाले महीनों में एडजस्ट कराने के भी निर्देश दिए गए हैं।

मनीष सिसोदिया ने भी किया ट्वीट-

इस विषय पर दिल्ली उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी ट्वीट किया है। उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा है कि प्राइवेट स्कूलों के छात्रों/अभिवावकों के हित में अरविंद केजरीवाल का बड़ा फैसला - प्राइवेट स्कूलों को आदेश - कोई भी स्कूल ट्यूशन फ़ीस के अलावा कोई अन्य फ़ीस चार्ज न करे। जिसने छात्रों से ट्यूशन फ़ीस के अलावा कोई अन्य फ़ीस ली है उसे आने वाले महीनो में एडजस्ट करना होगा।

NEET, JEE Main: इस जगह पर एग्जाम देने वाले स्टूडेंट्स के लिए लोकल ट्रेन शुरू, ऐसे करें यात्रा

आदेश ना मानने वालों के खिलाफ होगी कानूनी कार्रवाई-

बता दें कि स्कूल छात्रों के अभिभावकों के दिल्ली सरकार को प्राइवेट स्कूलों के बंद होने के बावजूद ट्यूशन फीस के अलावा भी कई अन्य तरह की फीस वसूलने की शिकायत मिली थी। जिसके बाद डायरेक्टर ऑफ एजुकेशन ने अतिरिक्त वसूले गए शुल्क को स्कूलों को फौरन वापस लौटाने के निर्देश दिए हैं। साथ ही, स्कूली बच्चों के भविष्य के बारे में सोचते हुए दिल्ली सरकार ने सभी स्कूलों को निर्देश देते हुए कहा है कि अगर कोई छात्र खराब आर्थिक स्थिति की वजह से फीस न दे पाएं तो उन्हें ID और पासवर्ड देने से मना नहीं किया जाये। आदेश न मानने वाले स्कूलों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की बात भी कही गई है।

COVID-19 Update: एक दिन में दर्ज हुए 69921 नए मामले, जानें कहां-कितने लोगों की गई जान

ताजा खबरें