छात्रों को वैक्सीन लगाए बिना न ली जाएं 12 वीं बोर्ड की परीक्षा- मनीष सिसोदिया

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने रविवार कहा कि छात्रों को वैक्सीन लगाए बिना 12 वीं कक्षा की परिक्षा लेना बडी गलती हो सकती है।

Updated On: May 23, 2021 16:46 IST

Ajay Chaudhary

Photo Source: Google

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने रविवार कहा कि छात्रों को वैक्सीन लगाए बिना 12 वीं कक्षा की परिक्षा लेना बडी गलती हो सकती है। सिसोदिया ने अपने ये सुझाव शिक्षा मंत्रालय द्वारा आयोजित हाई लेवल मीटिंग के दौरान रखे। सिसोदिया ने 12 वीं की बोर्ड परिक्षाओं से पहले सभी छात्रों के लिए वैक्सीन की व्यवस्था करने की मांग की है। केंद्र सरकार द्वारा ली जा रही बैठक में सिसोदिया ने दिल्ली सरकार की तरफ से अपना ये सुझाव रखा है।

सिसोदिया ने अपनी ये बात रखने के लिए ट्वीटर का भी सहारा लिया। उन्होंने लिखा- छात्रों की सुरक्षा को दरकिनार करते हुए परीक्षाओं को लेकर एक बहुत बडी भूल हो सकती है। पहले वैक्सीन सुरक्षा-फिर परीक्षा।

सिसोदिया के अनुसार 12 वीं के 95 प्रतिशत से अधिक छात्र 17.5 साल से अधिक उम्र के हैं। केंद्र एक्सपर्टस से बात करे, क्या उनको कोवैक्सीन या कोविशील्ड दी जा सकती है?

सिसोदिया ने कहा कि केंद्र को पीफाइजर से भी बात करनी चाहिए, वो देशभर में 12वीं के 1.4 करोड बच्चों और स्कूलों में लगभग इतने ही शिक्षकों के लिए वैक्सीन लेकर आएं।

केंद्र द्वारा 12वीं की बोर्ड परिक्षाओं को लेकर ये बैठक रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में ली गई। सरकार इस मीटिंग में तय कर रही है कि 12 वीं की बोर्ड परीक्षाएं ली जाएं या नहीं। ये परीक्षाएं कोरोना वायरस की दूसरी लहर के चलते टाल दी गई थी।

ताजा खबरें