इस दिन से खुलेंगे आईटीआई और प्रधानमंत्री कौशल विकास केंद्र, जारी हुई गाइडलाइन्स

कोरोना काल और लॉकडाउन के कारण सभी शैक्षणिक संस्थान बंद पड़े हैं। लेकिन अब केंद्र सरकार ने इनको खोलने को लेकर गाइडलाइन्स जारी कर दी है।

Updated On: Sep 9, 2020 11:45 IST

Dastak Web

Photo Source: Google

कोविड-19 महामारी के कारण मार्च महीने से ही लॉकडाउन का माहौल चल रहा है जिसके कारण बहुत सी तकलीफों का सामना करना पड़ा। स्कूल कॉलेज और बाकी चीजों पर भी लॉकडाउन लगाया गया था जिसके कारण परीक्षा से लेकर रिजल्ट तक आने में देरी हुई। हालांकि धीरे-धीरे अब सभी चीजों को ढील दी जा रही है। वही देश भर के आईटीआई, प्रधानमंत्री कौशल विकास केंद्र, जन शिक्षण संस्थान और राष्ट्रीय कौशल विकास केंद्र 21 सितंबर से खुलेंगे। केंद्रीय कौशल विकास व उद्यमिता मंत्रालय ने मंगलवार को सभी राज्यों के प्रधान सचिवों को इस संबंध में अहम जानकारी देकर गाइडलाइन भेज दिए हैं। इन सब में सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा पालन करना होगा। और मंत्रालय द्वारा दिए गए ऐप का इस्तेमाल करना होगा।

मंत्रालय द्वारा जारी किए गए ऑनलाइन के मुताबिक, सभी 15 हजार आईटीआई में 21 सितंबर से नवंबर तक कोर्स (प्रैक्टिकल और थ्योरी) पूरा करवाया जाएगा। ताकि पढ़ाई और परीक्षा में कोई कमी ना हो। इसके बाद कोरोना हालात ठीक होने पर नवंबर के पहले और दूसरे सप्ताह तक वार्षिक परीक्षा होगी।

कुल मिलाकर आईआईटी में 26 लाख स्टूडेंट्स हैं। इसलिए वहां वायरस फैलने का जोखिम ज्यादा है इसलिए प्रोटोकॉल में बताया गया है कि एक क्लास में 30 स्टूडेंट्स नहीं बल्कि 10 ही बैठेंगे। सरकार ने राज्यों के माध्यम से सभी 15 हजार आईटीआई को कहां है कि यदि किसी कैंपस में अभी भी क्वारंटीन केंद्र बने हुए हैं तो वे किसी अन्य स्थान पर बिना देरी या फीस लिए पढ़ाई शुरू करेंगे।

दुनिया की सबसे चर्चित कोविड-19 वैक्सीन के ट्रायल की उम्मीदों पर फिरा पानी, दिखें ये साइड इफ़ेक्ट!

आईटीआई के छात्रों का 80 फीसदी थ्योरी ऑनलाइन क्लास के जरिए पूरा हो गया है। कॉलेज बंद होने के कारण प्रैक्टिकल पूरा नहीं हो पाया है। इसलिए पहले दूसरे वर्ष के छात्रों की क्लास और परीक्षा होगी। उसके बाद पहले वर्ष के छात्रों की परीक्षा दिसंबर में आयोजित की जाएगी। भले 21 से आईटीआई खुल रही हो लेकिन हर राज्य को दो हफ्तों में वहां का माहौल पूरा जांच करना होगा। अगर वहां सब ठीक होता है तभी शुरू करने की योजना प्रारंभ करनी होगी।

कमला हैरिस के पहली महिला राष्ट्रपति बनने को ट्रंप ने क्यों बताया अमेरिका का अपमान?

ताजा खबरें