महाभारत के इंद्रदेव सतीश कौल का कोरोना से निधन, लॉकडाउन के बाद से झेल रहे थे आर्थिक तंगी

फिल्म अभिनेता सतीश कौल, जो टीवी शो महाभारत में इंद्र देव की भूमिका में मश्हूर थे। उनका निधन 74 वर्ष की आयु में कोरोना वायरस के प्रकोप में आने के कारण हो गया। शनिवार को पंजाब के लुधियाना में उन्होंने अंतिम सांस ली।

Updated On: Apr 10, 2021 17:54 IST

Dastak

Photo Source- Social Media

फिल्म अभिनेता सतीश कौल, जो टीवी शो महाभारत में इंद्र देव की भूमिका में मश्हूर थे। उनका निधन 74 वर्ष की आयु में कोरोना वायरस के प्रकोप में आने के कारण हो गया। शनिवार को पंजाब के लुधियाना में उन्होंने अंतिम सांस ली। कौल की बहन सत्या देवी ने मीडिया को बताया कि उन्हें बीते हफ्ते से बुखार था और वह ठीक नहीं हो पा रहे थे। इसलिए गुरुवार को हमने उन्हें यहां के श्री राम चैरिटेबल अस्पताल में भर्ती कराया। अस्पताल में भर्ती होने के बाद हमें उनके कोरोना वायरस होने के बारे में जानकारी मिली। बहन के अनुसार उनका अंतिम संस्कार रविवार को किया जाएगा।

लॉकडाउन लगने से झेल रहे थे आर्थिक तंगी-

सतीश कौल ने पिछले साल अपने साथ चल रही पैसे की तंगी के बारे में समाचार एजेंसी पीटीआई से बात की थी। उन्होंने जिक्र किया था कि कोरोना वायरस के बाद लगे लॉकडाउन के कारण उनकी आर्थिक स्थिती बिगड़ गई है। उन्होंने कहा था कि मैं दवाओं, किराने के सामन और बुनियादी जरुरतों के लिए संघर्ष कर रहा हूं। उन्होंने उद्योग जगत के लोगों से अपनी मदद की अपील की थी। उन्होंने कहा था कि मुझे एक अभिनेता के रुप में बहुत प्यार मिला है, अब एक इंसान के रुप में कुछ ध्यान देने की जरुरत है।

चोट लगने से अस्पताल से लेकर वृद्धाश्रम तक का सफर-

आपको बता दें कौल ने 2011 में पंजाब जाने के बाद वहां एक एक्टिंग स्कूल की शुरुआत की थी। हालांकि उनकी इस योजना को पर न लग सके। एक पडाव आया और बाद में उनकी कूल्हे की हड्डी टूट जाने के चलते उनका ये काम प्रभावित हुआ। उनके अनुसार वो तब ढ़ाई साल तक अस्पताल के बिस्तर पर थे। उसके बाद वो दो साल तक एक वृद्धाश्रम में रहे।

सतीश कौल का अभिनेता के रुप में सफर-

अभिनेता ने अपने करियर की शुरुआत 70 के दशक की शुरुआत में की थी। उनकी लोकप्रिय बॉलीवुड फिल्मों में राम लखन, प्यार तो होना ही था और मौसी नं 1 शामिल है। उनका पंजाबी करियर अधिक फल-फूल रहा था और मौला जट्ट, सस्सी पुन्नू, इश्क निमाना, सुहाग चूडा और पटोला जैसे नामों के साथ लंबे समय तक वो हिट रहे। टेवी पर वो महाभारत के अलावा 1985 की दूरदर्शन की सीरिज विक्रम और बेताल में भी नजर आए।

प्रशांत किशोर की वायरल ऑडियो का जानें सच, जिसके अनुसार बीजेपी बंगाल चुनाव जीत रही है

ताजा खबरें