हरियाणा के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने ओलंपिक पदक विजेता खिलाड़ियों को किया सम्मानित

हरियाणा केे राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने हरियाणा की खेल नीति के तहत ओलंपिक में स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा को 6 करोड़, रजत पदक विजेता रवि दहिया को 4 करोड़ और बजरंग पुनिया को अढ़ाई करोड़ रूपये की राशि ईनाम स्वरूप दी।

Updated On: Aug 13, 2021 20:25 IST

Dastak

Photo Source- Haryana DPR

हरियाणा केे राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने खिलाड़ियों का आहवान किया कि वे पूरे दृढ़ निश्चिय और सकंल्प से एक मिशन के रूप में तैयारी करके भाग लें तो प्रदेश के खिलाड़ी अन्तर्राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताओं में और ज्यादा पदक जीतने में सक्षम होंगे। दत्तोत्रय आज पंचकूला में आयोजित टोक्यो ओलंपिक-2020 के विजेता एवं प्रतिभागी खिलाड़ियों का सम्मान समारोह में बोल रहे थे। उन्होंने इस समारोह में ओलंपिक खेलों के पदक विजेता और प्रतिभागी खिलाड़ियों को सम्मानित किया।

उन्होंने कहा कि हरियाणा की खेल नीति के तहत ओलंपिक में स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा को 6 करोड़, रजत पदक विजेता रवि दहिया को 4 करोड़ और बजरंग पुनिया को अढ़ाई करोड़ रूपये की राशि ईनाम स्वरूप दी। आज इस समारोह में राज्यपाल श्री दत्तात्रेय ने महिलाओं की 9 खिलाड़ियों को 50-50 लाख रूपये की राशि और सभी प्रतिभागी खिलाड़ियों को 15-15 लाख रूपये की राशि से सम्मानित किया।

इस अवसर पर हरियाणा के उपमुख्यमंत्री श्री दुष्यंत चैटाला, गृह व स्वास्थ्य मंत्री श्री अनिल विज, हरियाणा विधान सभा अध्यक्ष श्री ज्ञान चंद गुप्ता, खेल एंव युवा मामले मंत्री सरदार संदीप सिंह सहित मंत्रिगण के सभी सदस्यगण, मुख्यमंत्री हरियाणा के मुख्य प्रधान सचिव, श्री डी.एस. ढेसी मुख्य सचिव श्री विजयवर्धन, पुलिस महानिदेशक श्री मनोज यादव तथा सभी अधिकारीगण, अतिथिगण उपस्थित रहे।

उन्होंने कहा कि उन्हें गर्व है कि पूरे देश के 127 खिलाड़ियों ने विभिन्न खेलों व प्रतिस्पर्धाओं में टोक्यो ओलंपिक में भाग लिया। इन खिलाड़ियों में 32 खिलाड़ी यानि लगभग 25 प्रतिशत खिलाड़ी हरियाणा प्रदेश से हैं। ओलंपिक में हरियाणा प्रदेश के तीन खिलाड़ियों नीरज चैपड़ा, बजरंग पुनिया और रवि दहिया ने व्यक्तिगत मैडल जीतकर देश का नाम रोशन किया है। इसके साथ-साथ कांस्य पदक जीतने वाली हाॅकी टीम में भी दो खिलाड़ी सुरेन्द्र कुमार और सुमित हरियाणा से हैं। टोक्यो ओलंपिक में देश के खिलाड़ियों ने 7 पदक जीतें हैं जिनमें 4 पदक हरियाणा के खिलाड़ियों के नाम हैं। इस तरह से 50 प्रतिशत से भी अधिक हरियाणा के खिलाड़ियों ने पदक जीते हैं।

राज्यपाल श्री दत्तात्रेय ने कहा कि हरियाणा का ओलंपिक खेलों में एक स्वर्णिम इतिहास रहा है। ओलंपिक के इतिहास में एकल खेलों में भारत ने अब तक कुल 20 पदक जीते हैं, इनमें 11 पदक हरियाणा के नाम हैं। सभी प्रदेशवासी बधाई के पात्र हैं कि हरियाणा देश का मात्र 2 प्रतिशत भू-भाग होते हुए खेलों का हब बना है और भारत का नाम रोशन किया।

श्री दत्तात्रेय ने कहा कि हरियाणा की बेटियों पर और भी गर्व है जिन्होंने हाॅकी व अन्य प्रतिस्पर्धाओं में उम्दा प्रदर्शन कर देशवासियों का दिल जीता है। महिला हाॅकी की बात की जाए तो इस टीम में 9 खिलाड़ी हरियाणा से ही हैं, वो भी बहुत ही सामान्य परिवारों की बेटियां हैं। उन्होंने सभी बेटियों को हार्दिक शुभकामनाएँ दी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी द्वारा हरियाणा से शुरू किए गए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के परिणाम सामने आए हैं। इस कार्यक्रम का सबसे अधिक लाभ हरियाणा ने उठाया है।

दत्तात्रेय ने टोक्यो ओलंपिक में पदक जीतने व भाग लेने वाले सभी खिलाड़ियों व उनके प्रशिक्षकों तथा कोचों व परिजनों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा खेल नीति के तहत पैरालम्पिक में पदक जीतने वाले एंव ओलम्पिक, एशियन, काॅमनवैल्थ, राष्ट्रीय खेल और राष्ट्रीय प्रतिस्पर्धा में भाग लेने वाले सामान्य खिलाड़ियों के समान नकद पुरस्कार दिया जा रहा है।

हाईब्रेड ओटीटी प्लेटफॉर्म TALKIEZ लान्च, फिल्म देखने का मिलेगा अनूठा आनंद

उन्होंने कहा कि उन्हें विश्वास है कि पेरिस (फ्रांस) में होने वाले ओलंपिक में डबल डिजिट में पदक जीतकर देश का नाम रोशन करेंगे। पेरिस ओलंपिक में भी सबसे ज्यादा खिलाड़ी हरियाणा से ही होंगे।

ताजा खबरें