चीन को लेकर आपस में क्यों भिड़े अमूल-ट्विटर ? जानें पूरा मामला

चीन को लेकर डेयरी प्रोडक्ट्स के लिए मशहूर अमूल कंपनी और माइक्रो-ब्लॉगिंग साइट ट्विटर आपस में भिड़ गये हैं। इन दोनों के बीच हुई टकरार को लेकर ट्विटर पर #Amul काफी ट्रेंड कर रहा है। दरअसल, अमूल ने एक कार्टून बनाया था, जिसको लेकर ट्विटर ने उसे ब्लॉक कर दिया।

Updated On: Jun 6, 2020 17:49 IST

Dastak Online

Photo Source : Twitter

कोरोना वायरस फैलने को लेकर चीन चारों तरफ से विवादों में फंसा हुआ है। इसी बीच अब चीन को लेकर डेयरी प्रोडक्ट्स के लिए मशहूर अमूल कंपनी और माइक्रो-ब्लॉगिंग साइट ट्विटर आपस में भिड़ गये हैं। इन दोनों के बीच हुई टकरार को लेकर ट्विटर पर #Amul काफी ट्रेंड कर रहा है। दरअसल, अमूल ने एक कार्टून बनाया था, जिसको लेकर ट्विटर ने उसे ब्लॉक कर दिया। लेकिन कुछ समय बाद ट्विटर ने अमूल के ट्विटर अकाउंट को ओपन कर दिया। आइये जानते हैं पूरा मामला...

ऐसा क्या था अमूल के उस कार्टून में-

दरअसल, हाल ही में अमूल इंडिया ने चीनी प्रोडक्ट्स के खिलाफ Exit the Dragon कैंपेन चलाया है। इसको लेकर अमूल इंडिया ने एक कार्टून बनाया, जिसमें वह चीनी प्रोडक्ट्स का बहिष्कार किया जा रहा है। इस कैंपेन के कार्टून में अमूल गर्ल अपने देश यानी भारत को ड्रैगन से बचाती दिख रही है। यही नहीं, ड्रैगन के पीछे टिकटॉक का लोगों भी दिख रहा है। वहीं, इसमें बड़े-बड़े अक्षरों में लिखा है Amul Made In India. बता दें, यह ट्वीट 3 जून को पोस्ट किया गया था।

इसके कुछ देर बाद ही ट्विटर ने अमूल इंडिया का ट्विटर अकाउंट ब्लॉक कर दिया। जिसके बाद इस ट्वीट को व्यू करने पर मेसेज दिखा रहा था कि सावधान! यह अकाउंट अस्थाई तौर पर ब्लॉक है। इस अकाउंट से कुछ असामान्य ऐक्टिविटी की गई है। क्या आप अभी भी यह अकाउंट व्यू करना चाहते हैं। जिसके बाद सोशल मीडिया पर बवाल मच गया और #Amul ट्रेंड करने लगा। हालांकि, इसके कुछ समय बाद अमूल इंडिया के ट्विटर अकाउंट को अनब्लॉक कर दिया गया।

इस मामले पर ट्विटर का बयान-

सोशल मीडिया पर बवाल होने के बाद ट्विटर इंडिया ने इस मामले पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। ट्विटर ने साफ़ किया है कि अमूल का ट्विटर अकाउंट किसी कैंपेन और कार्टून की वजह से सस्‍पेंड नहीं किया गया था। ट्विटर सिक्योरिटी के चलते ऐसा हुआ। ट्विटर कुछ दिनों पर सिक्योरिटी चेकअप करता है। सिर्फ जरूरी वेरिफिकेशन पूरा करने तक अकाउंट को रिस्ट्रिक्‍ट किया गया था।

बीजेपी से नाता तोड़ने वाले हैं ज्योतिरादित्य सिंधिया ?

दरअसल, सिक्योरिटी के दौरान ट्विटर यूजर से लॉगिन वेरिफिकेशन कोड मांगता है और एक लंबे समय के बाद भी वेरिफिकेशन कोड नहीं मिलने के बाद अकाउंट को अस्थायी रूप से ब्लॉक किया जाता है। ट्विटर ने साफ तौर पर कहा है कि अकाउंट को सस्पेंशन कंटेंट की वजह से नहीं हुआ था। ट्विटर ने यह भी कहा है कि अकाउंट को ना तो सस्पेंड किया गया था और ना ही बैन किया गया था।

डार्क चॉकलेट खाने से मिलते हैं ये जबरदस्त फायदे, जानकर हो जाएंगे हैरान

ताजा खबरें