मेक्सिको की एंड्रिया मेजा बनी मिस यूनिवर्स 2020, कोरोना पर दिया ये बडा बयान

मेक्सिको (Mexico) की एंड्रिया मेजा (Andrea Meza) को मिस यूनिवर्स 2020 (Miss Universe 2020) का ताज पहनाया गया है। मेजा को रविवार को फ्लोरिडा (Florida) में मिस यूनिवर्स चुना गया।

Updated On: May 17, 2021 12:06 IST

Dastak

Photo Source- Miss Universe

मेक्सिको (Mexico) की एंड्रिया मेजा (Andrea Meza) को मिस यूनिवर्स 2020 (Miss Universe 2020) का ताज पहनाया गया है। मेजा को रविवार को फ्लोरिडा (Florida) में मिस यूनिवर्स चुना गया। रविवार की रात को मिस यूनिवर्स प्रतियोगिता टीवी पर वापस आई क्योंकि 2020 में पहली बार कोरोनोवायरस महामारी के कारण पेजेंट को रद्द कर दिया गया था। मिस ब्राजील जूलिया गामा रनर अप रही जबकि मिस पेरू जेनिक मैकेटा डेल कैस्टिलो ने विभिन्न देशों का प्रतिनिधित्व करने वाली 73 अन्य महिलाओं के बीच तीसरा स्थान हासिल किया है।

मेजा पेशे से सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं और कोरोना वायरस के कारण एक साल बाद आयोजित प्रतियोगिता में खिताब जीता है। उन्हें ये खिताब उनसे पहली मिस यूनिवर्स 2019 ज़ोज़िबिनी टुन्ज़ी द्वारा फ्लोरिडा में दिया गया। वहीं भारत का प्रतिनिधित्व एडलाइन कैस्टेलिनो द्वारा किया गया और वो चौथे स्थान पर रही। उन्हें मिस दिवा यूनिवर्स 2020 का ताज पहनाया गया।

मेजा ने रूढिवादिता पर ये कहा-

फाइनल राउंड में 26 वर्षीय मेजा को बदलते सौंदर्य मानकों पर बोलने के लिए कहा गया। जवाब देते हुए, उसने कहा: जैसे-जैसे हम एक समाज के रूप में आगे बढ़ते हैं, हम रूढ़िवादिता के साथ भी आगे बढ़ते हैं।" "आजकल सुंदरता केवल हमारे देखने का तरीका नहीं है। मेरे लिए सुंदरता न केवल हमारी आत्मा में, बल्कि हमारे दिलों और हमारे आचरण करने के तरीके में भी फैलती है। कभी किसी को यह बताने की अनुमति न दें कि आप मूल्यवान नहीं हैं, ”उसने कहा। शो की शुरुआत स्विमसूट सेगमेंट से हुई, जिसके बाद इवनिंग गाउन राउंड और इंटरव्यू हुआ। पीपल्स मैगज़ीन की रिपोर्ट के अनुसार, प्यूर्टो रिकान के गायक लुइस फोंसी ने भी मंच की शोभा इस दौरान पांच प्रतियोगियों के साथ प्रदर्शन कर बढ़ाई।

कोरोना महामारी पर मेजा ने कही ये बात-

मेजा से यह भी पूछा गया कि अगर वह अपने देश की नेता होतीं तो उन्होंने कोरोना महामारी को कैसे संभाला होता, इस पर उन्होंने जवाब दिया कि वो लॉकडाउन को काफी पहले ही शुरु कर देती।मेजा ने कहा मेरा मानना ​​​​है कि COVID-19 जैसी इस कठिन स्थिति को संभालने का कोई सही तरीका नहीं है। हालांकि मेरा मानना है कि ये सबकुछ बड़ा होने से पहले ही हम लॉकडाउन लगा देते क्योंकि हमने बहुत सी जान गंवा दी हैं और हम इसे वहन नहीं कर सकते। हमें अपने लोगों का ख्याल रखना है इसलिए मैं शुरु से ही उनका ख्याल रखती।

कोरोना वैक्सीन की कंपनी बदलकर दवा लेने के क्या कुछ साइड इफेक्टस हैं?

प्रतियोगिता में उन्होंने जो अपनी बायोग्राफी दी है उसके अनुसार मिस यूनिवर्स 2020 महिलाओं के अधिकारों की रक्षा को लेकर लडने वाली एक कार्यकर्ता है और वो म्यूनिसिपल इंस्टीट्यूट फॉर विमेन के साथ मिलकर काम करती है।

ताजा खबरें