डोनाल्ड ट्रंप ने क्यों किया H-1B वीजा को सस्पेंड? जानें कारण

दुनियाभर के कई देश इस समय कोरोना महामारी से बुरी तरह जूझ रहे हैं। इसी बीच अब अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारतीयों को एक बड़ा झटका दिया है। दरअसल, ट्रंप ने H-1B वीजा को सस्पेंड करने का फैसला लिया गया है।

Updated On: Jun 23, 2020 11:29 IST

Dastak Online

Photo Source : Twitter

दुनियाभर के कई देश इस समय कोरोना महामारी से बुरी तरह जूझ रहे हैं। इसी बीच अब अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारतीयों को एक बड़ा झटका दिया है। दरअसल, ट्रंप ने H-1B वीजा को सस्पेंड करने का फैसला लिया है। उनके इस कदम से भारत समेत दुनिया के आईटी प्रोफेशनल को बड़ा झटका लगने वाला है। वहीं, H-1B वीजा इस साल के आखिर तक सस्पेंड करने का फैसला लिया है। ये फैसला 24 जून से लागू हो जाएगा।

ट्रंप ने क्यों किया H1-B वीजा सस्पेंड-

अमेरिकी राष्ट्रपति ने ये फैसला अपने देश के यानी अमेरिकी श्रमिकों के हित में लिया है। इंडिया टुडे के अनुसार, H-1B वीजा को सस्पेंड करने के पीछे उन अमेरिकियों को पहले रोजगार दिलाना है, जिन्होंने कोरोना संकट और लॉकडाउन के कारण अपनी नौकरी खो दी हैं। क्योंकि कोरोना संक्रमण ने अमेरिका में काफी दहशत मचा रखी है। वहीं, इस साल नवंबर में अमेरिका राष्ट्र्पति के चुनाव भी होने वाले हैं। इसलिए H-1B वीजा को सस्पेंड करने का एक कारण ये भी माना जा रहा है।

हालांकि, ट्रंप के इस फैसले से भारी संख्या में आईटी से जुड़े लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। वहीं, अब उन्हें स्टैम्पिंग से पहले कम से कम साल के अंत तक इंतजार करना होगा। इससे वे लोग भी प्रभावित होंगे जो H-1B को रिन्यू कराना चाहते थे। बता दें, साल भर में दिए जाने वाले 85,000 वीजा में से 70 फीसदी से अधिक हिस्सेदारी भारतीयों की ही थी। इससे साफ़ है कि भारतीयों को एक बड़ा झटका लगा है।

CGBSE 10th-12th Results 2020: आज जारी होंगे कक्षा दसवीं और बारहवीं के नतीजे, ऐसे करें चेक

क्या है H-1B वीजा-

एच-1बी वीजा एक गैर-प्रवासी वीजा है। वहीं, यह वीजा उन लोगों को दिया जाता है, जो अमेरिका में कार्यरत कंपनियों में काम करने में कुशल हो। इसके तहत विदेशों से लोग अमेरिका में काम करने आते हैं। वहीं, इस वीजा की वैलिडिटी भी एक तय समय के लिए निर्धारित होती है, जिसे समय-समय पर रिन्यू कराना पड़ता है। अमेरिकी कंपनियों की डिमांड की वजह से भारतीय आईटी प्रोफेशनल्‍स इस वीजा को सबसे अधिक हासिल करते हैं।

COVID-19 Update: एक दिन में सामने आये 14933 नए मामले, कुल आंकड़ा 4.40 लाख पार

ताजा खबरें