कुलभूषण केस: भारत ने खर्च किया 1 रुपया, करोड़ों खर्च करने पर भी हारा पाकिस्तान

Updated On: Jul 18, 2019 10:14 IST

Jyoti Chaudhary

Photo : Twitter

भारत ने कुलभूषण जाधव मामले में अंतरराष्ट्रीय अदालत में केस लड़ने के लिए केवल 1 रुपया खर्च किया तो वहीं पाकिस्तान ने इस मामले को लेकर करोड़ों रुपए खर्च कर दिए। पाक के करोड़ों खर्च करने के बाद आईसीजी ने फैसला भारत के पक्ष में सुनाया है।

दरअसल, देश के जाने माने वकील हरीश साल्वे ने अंतरराष्ट्रीय अदालत में कुलभूषण का केस लड़ने के लिए फीस के तौर पर सिर्फ एक रुपया लिया। बता दे पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने साल 2017 में किए गए एक ट्वीट में कहा था कि हरीश साल्वे ने जाधव का केस लड़ने के लिए एक रुपये लिया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पाकिस्तान ने जाधव को दोषी साबित करने के लिए अपने वकीलों पर 20 करोड़ रुपये से ज्यादा खर्च कर दिया। दरअसल, पाक सरकार ने पिछले साल बजट पेश करते समय बताया था कि अंतर्राष्ट्रीय अदालत में जाधव का केस लड़ने वाले वकील खावर कुरैशी ने 20 करोड़ रुपये लिए हैं। कैंब्रिज यूनिवर्सिटी से कानून में स्नातक करने वाले कुरैशी आईसीजे में केस लड़ने वाले सबसे कम उम्र के वकील हैं। वहीं, पाकिस्तान की ओर से जाधव के मामले पर इतना खर्च करने को लेकर वहां की सरकार को आलोचना का सामना करना पड़ा था।

व्यक्ति की पहचान उसकी जाति से नहीं, काम और विचारों से हो

वहीं, बता दे हरीश साल्वे की एक दिन की फीस करीब 30 लाख रुपये है लेकिन जाधव का केस उन्होंने महज एक रुपये में लड़ा। वह 1999 से 2002 तक देश के सॉलिसिटर जनरल रहे। उनके पिता एनकेपी साल्वे पूर्व कांग्रेस सांसद और क्रिकेट प्रशासक थे। अप्रैल 2012 में उनका निधन हो गया था।

आतंकवादी कुलभूषण जाधव को वाघा बोर्डर पर लटका कर मार देना चाहिए- वीना मलिक

ताजा खबरें