फ्रांस में अब नाबालिगों को भी मिलेगी मुफ्त कंडोम, गर्भपात पहले से ही है निःशुल्क

फ्रांस में अब 25 साल तक के युवाओं को मुफ्त में कंडोम दी जाएगी, यहां युवा किसी भी दवाई की दुकान पर जाकर ये कंडोम प्राप्त कर सकता है। देश में किसी भी उम्र की महिला के लिए गर्भपात पहले सी मुफ्त है।

Updated On: Dec 11, 2022 12:13 IST

Dastak

Photo Source- Pixabay

फ्रांस में अब 25 साल तक के युवाओं को मुफ्त में कंडोम दी जाएगी, यहां युवा किसी भी दवाई की दुकान पर जाकर ये कंडोम प्राप्त कर सकता है। फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रॉन ने शुक्रवार को इसकी घोषणा की है। सरकार के अनुसार युवाओं में बढ़ रहे यौन रोगों को देखते हुए ये निर्णय लिया गया है।

महिलाओं को पहले से ही मिल रही है फ्री जन्म नियंत्रण सुविधा-

फ्रांस में 25 वर्ष से कम उम्र की महिलाओं को पहले से ही मुफ्त में जन्म नियंत्रण की सुविधा मिल रही है। ये सुविधा हर आय वर्ग की महिला को मुफ्त में सरकार दे रही है जिसका लक्ष्य अवांछित गर्भधारण को रोकना है। ये नियम पुरषों, ट्रांसजेंडर या गैर-बाइनरी लोगों पर लागू नहीं होता है।

राष्ट्रपति ने की फ्री कंडोम की घोषणा-

फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रॉन ने गुरवार को इस संबध में घोषणा की, जिसके तहत 18 से 25 साल तक की उम्र वाले किसी भी व्यक्ति के लिए देश भर में अब मुफ्त कंडोम मिलेगी। नए साल पर 1 जनवरी से इस सविधा को शुरु कर दिया जाएगा।

नाबालिगों को भी मिलेगी मुफ्त कंडोम-

राष्ट्रपति मैक्रॉन की मुफ्त कंडोम की घोषणा के बाद वहां टीवी चैनलों और अन्य लोगों ने सोशल मीडिया के माध्यम से सवाल उठाए कि इसमें आपने 18 साल का उम्र का प्रतिबंध क्यों लगाया है, आप नाबालिगों को मुफ्त में कंडोम क्यों नहीं दे रहे हैं। इसपर मैक्रॉन इस कार्यक्रम का विस्तार करने के लिए सहमत हुए और नाबालिगों को भी मुफ्त कंडोम की सुविधा में शामिल कर लिया गया।

राष्ट्रपति ने माना नाबालिग भी करते हैं सेक्स-

मैक्रॉन ने एक सेल्फी वीडियो बनाकार इस कार्यक्रम की घोषणा की, जिसमें वो कह रहे हैं कि "चलो इसे करते हैं," ये वीडियो उन्होने स्पेन में चल रहे एक शिखर सम्मेलन के दौरान शूट किया था। बाद में नाबालिगों को मुफ्त कंडोम न देने पर विवाद होने पर उन्होंने एक अन्य ट्वीट किया और कहा कि बहुत सारे नाबालिग भी सेक्स करते हैं, इसलिए उन्हें भी सुरक्षा कवच की जरुरत है।

मैक्रॉन ने अपना पुराना वायदा किया पूरा-

मैक्रॉन फ्रांस के सबसे कम उम्र के राष्ट्रपति हैं, उन्हें 2017 में पहली बार ये पद संभाला था, उस वक्त उनकी उम्र महज 39 साल थी। उस वक्त उन्होंने वायदा किया था कि एचआईवी और अन्य यौन संबधी रोगों को रोकने के लिए कदम उठाएंगे।

कौन हैं Bernard Arnault, जो Elon Musk को पछाड़कर बन गए हैं दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति

फ्रांस में गर्भपात पहले सी मुफ्त में उपलब्ध है-

फ्रांस का राज्य स्वास्थय देखभाल प्राणाली पहले से कुछ जन्म नियंत्रण खर्चों को उठा रहा है लेकिन सभी को वो अपने नियंत्रण में नहीं रखता है। यहां गरीब मरीजों को डॉक्टरों से समय लेने के लिए अक्सर लंबा इंतजार करना पड़ता है, फिर भी देश में गर्भपात सभी के लिए निःशुल्क है।

कनाडा में 20 वर्षीय भारतीय छात्र की हुई मौत, जानें पूरा मामला

ताजा खबरें