Switzerland Burqa Ban: अब स्विट्जरलैंड में भी बुर्का और नकाब पहनने पर लगेगी रोक!

Burqa Ban in Switzerland: स्विट्जरलैंड (Switzerland) में अब महिलाओं के बुर्का और नकाब पहनने पर रोक लगाने की तैयारी की जा रही है। स्विट्जरलैंड सरकार ने बीते रविवार जनमत संग्रह (Referendum) कराया गया, जिसमें वहां की जनता की राय मांगी गई।

Updated On: Mar 8, 2021 10:01 IST

Dastak Online

Photo Source: Google

Burqa Ban in Switzerland: स्विट्जरलैंड (Switzerland) में अब महिलाओं के बुर्का और नकाब पहनने पर रोक लगाने की तैयारी की जा रही है। स्विट्जरलैंड सरकार ने बीते रविवार जनमत संग्रह (Referendum) कराया गया, जिसमें वहां की जनता की राय मांगी गई और अधिकतर लोगों ने बुर्का बैन करने के पक्ष में वोट दिया है। जनमत संग्रह में वहां की जनता से पूछा गया कि क्या बुर्का और नकाब पर बैन लगाया जाना चाहिए? इसी के जवाब में 51 फीसदी लोगों ने बुर्का बैन करने को अपना समर्थन दिया है। वहीं, उम्मीद की जा रही है कि अब सरकार जल्द ही आधिकारिक तौर पर सार्वजनिक जगहों पर बुर्का और नकाब पहनने पर बैन की घोषणा कर सकती है।

बुर्का बैन करने को पहले जताई थी आपत्ति-

स्विट्जरलैंड में करीब एक महीने पहले पब्लिक प्लेस पर मुस्लिम महिलाओं के बुर्का या नकाब पहनने पर बैन का एक प्रस्ताव लाया गया था। लेकिन इसको लेकर कई संगठनों ने अपना विरोध जताया था। इन संगठनों में कुछ मुस्लिम संगठन भी शामिल थे, जिन्होंने बुर्का पर बैन लगाने पर विरोध जताया था। इसी के चलते सरकार ने देशवासियों की राय के मुताबिक फैसला लेने का निर्णय लिया। बताते चले करीब 51 प्रतिशत लोग चाहते हैं कि बुर्का और नकाब आदि पर प्रतिबंध लगाया जाए।

किसान आंदोलन: एक और किसान ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा- सरकार आखिरी इच्छा पूरी कर दे

इन देशों में पूरी तरह से बैन है बुर्का-

साल 2011 में फ्रांस ने महिलाओं के नकाब यानी चेहरे को ढकने पर बैन लगाया था। ऑस्ट्रिया, नीदरलैंड्स, डेनमार्क, और बुल्गेरिया में नही पब्लिक प्लेस पर बुर्का पहनने पर रोक है। लेकिन ऐसे में स्विट्जरलैंड में रहने वाले मुस्लिमों का मानना है कि बुर्का बैन पूरी तरह गलत है और इससे दुनिया में यह संदेश जाएगा कि स्विट्जरलैंड इस्लाम विरोधी देश है। उनका यह भी कहना है कि सरकार प्रतिबंध लगाकर सरकार उनके अधिकारों को सीमित करना चाहती है। अब देखना होगा कि सरकार जनता की राय पर चलती है या कोई और फैसला लेती है।

आईआईएम कलकत्ता के 2021 MBA बैच को मिला 100 प्रतिशत प्लेसमेंट

ताजा खबरें