महाराष्ट्र में फिर से लगेगा लॉकडाउन?

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के मामलों ने एक बार फिर से अपनी रफ़्तार पकड़ ली है। इसी के चलते राज्य प्रशासन की चिंताएं भी बढ़ती नजर आ रही है। पिछले हफ्ते से लगातार करीब सात हजार कोरोना के नए मामले दर्ज किये जा रहे हैं।

Updated On: Mar 6, 2021 10:19 IST

Dastak Online

Photo Source: Google

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के मामलों ने एक बार फिर से अपनी रफ़्तार पकड़ ली है। इसी के चलते राज्य प्रशासन की चिंताएं भी बढ़ती नजर आ रही है। पिछले हफ्ते से लगातार करीब सात हजार कोरोना के नए मामले दर्ज किये जा रहे हैं। एक मार्च को राज्य में कोरोना के 6,397 नए मामले दर्ज किये गये थे। जबकि 28 फरवरी और 5 मार्च के बीच, राज्य में कोरोना के 51,612 नए मामले दर्ज किये गये हैं।

28 फरवरी को, महाराष्ट्र में दैनिक संक्रमण मामलों की संख्या 8,283 थी। 2 मार्च को इसकी संख्या 7,863 हो गई। 3 मार्च को कुल 9,855 नए मामले सामने आए और 4 मार्च को यह संख्या 8,998 थी। 5 मार्च को, राज्य में 17 अक्टूबर, 2020 के बाद उच्चतम वृद्धि की सूचना दी, जब राज्य में 10,259 दैनिक मामलों का उछाल दर्ज किया गया था। वहीं, मुंबई में 900 दैनिक मामलें देखने को मिल रहे हैं। ये स्थिति सरकार और लोगों के लिए काफी चिंताजनक है। वहीं, लोगों के मन में सवाल है कि क्या राज्य में फिर से लॉकडाउन (Lockdown) लग जाएगा?

जिलों में लॉकडाउन का विस्तार-

अमरावती जैसे जिलों में लॉकडाउन के विस्तार को लेकर जल्दी ही फैसला लिया जाएगा। पिछले लॉकडाउन केप्रतिबंध 8 फरवरी तक थे। जिले में स्कूलों और शैक्षणिक संस्थानों को जिलों में बंद कर दिया गया है। इन सभी पर अभी भी ताला लगा हुआ है। बता दें, अमरावली उन जिलों में से है जहां लगातार बढ़ते मामले दर्ज किए जा रहे हैं।

8 से 15 दिनों के लिए डेडलाइन-

21 फरवरी को एक प्रेस मीटिंग को संबोधित करते हुए, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि आठ से 15 दिनों में स्थिति की समीक्षा की जाएगी। तब तक, राज्य में किसी भी सामाजिक, सांस्कृतिक, धार्मिक, राजनीतिक सभा को प्रतिबंधित करने के अलावा कोई राज्यव्यापी प्रतिबंध नहीं लगाया गया था।

Jaspreet Bumrah एक्ट्रेस अनुपमा परमेश्वरन से करने वाले हैं शादी?

लॉकडाउन पर मंत्रियों ने क्या कहा?-

राष्ट्रीय तालाबंदी लागू होने के लगभग एक साल बाद, लोगों के आंदोलन और प्रतिष्ठानों के कामकाज पर प्रमुख प्रतिबंध लगाना संभव नहीं माना जाता है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने राज्य में एक और तालाबंदी करने की अनिच्छा व्यक्त की, लेकिन उन्होंने कहा कि "मैं इसे थोपना नहीं चाहता, लेकिन मज़बूरी भी कुछ है।" 28 फरवरी को मामले बढ़ रहे हैं।

महाराष्ट्र के मंत्री विजय वडेट्टीवार ने पिछले हफ्ते कहा था कि राज्य सरकार मुंबई लोकल टाइमिंग को प्रतिबंधित करने पर विचार करेगी, जिसकी सेवाओं को 1 फरवरी को जनता के लिए खोल दिया गया है।

बृहन्मुंबई नगर निगम के अतिरिक्त आयुक्त सुरेश काकानी ने कहा कि नागरिक निकाय मुंबई के लिए कोई अतिरिक्त प्रतिबंध लगाने की योजना नहीं बना रहा है क्योंकि यह परीक्षण और निगरानी बढ़ाने पर निर्भर है।

CBSE 10th, 12th Datesheet 2021: बोर्ड ने नई डेटशीट की जारी, यहां देखें सारी डिटेल

 

ताजा खबरें