भारत में कोरोना के Delta Plus वैरिंएट के 48 मामले आए सामने, चार मौत भी हुई

केंद्रीय स्वास्थय मंत्रालय के डाटा के अनुसार देशभर के 10 राज्यों में से सरकार ने 45000 से अधिक कोरोना पॉजिटिव मरीजों के सैंपल जांच के लिए थे, जिनमें से 48 सैंपल में डेल्टा प्लस वैरिएंट पाया गया है।

Updated On: Jun 26, 2021 18:41 IST

Dastak

Photo Source: Pixabay

भारत में कोरोनावायरस (Covid19) की दूसरी लहर के बाद और संभावित तीसरी लहर से पहले कोरोना के डेल्टा वैरिंएट का उपवंश डेल्टा पल्स (Delta Plus) लोगों को परेशान करने लगा है। डेल्टा वैरिएंट का कोरोना की दूसरी लहर में विशेष योगदान था, 2021 के अप्रैल और मई माह में सबसे अधिक कोरोना मामले देश में देखे गए थे। केंद्रीय स्वास्थय मंत्रालय के डाटा के अनुसार देशभर के 10 राज्यों में से सरकार ने 45000 से अधिक कोरोना पॉजिटिव मरीजों के सैंपल जांच के लिए थे, जिनमें से 48 सैंपल में डेल्टा प्लस वैरिएंट पाया गया है।

इस वैरिएंट के सबसे अधिक 20 केस महाराष्ट्र में, 9 केस तमिलनाडु में, 8 केस मध्यप्रदेश में, तीन केस केरेला में और दो दो केस पंजाब और गुजरात में सामने आए हैं। वहीं हरियाणा के फरीदाबाद में भी डेल्टाप्लस वैरिएंट का एक मामला सामने आया है। यहां के ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज की लैब से लिए गए सैंपल में से एक व्यक्ति को डेल्टा प्लस वैरिएंट वाला कोरोनावायरस होने की पुष्टी हुई है।

देश में डेल्टा प्लस वैरिएंट वाले मरीजों में चार मौते भी हो गई हैं। तमिलनाडु में शनिवार को डेल्टा प्ल्स वैरिएंट से पहली मौत दर्ज की गई है, वहां के मदुरई में ये मौत हुई है, वहां के राज्य स्वास्थय विभाग ने इसकी पुष्टी की है। शुक्रवार को महाराष्ट्र ने डेल्टा प्ल्स वैरिएंट से राज्य में पहली मौत दर्ज की थी। वहां के रत्नागिरी जिले में एक 80 साल की बुजुर्ग महिला की मौत हुई है। मध्यप्रदेश में भी इस तरह की दो मौतें देखने को मिली हैं।

नेशनल सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल (एनसीडीसी) के निदेशक डॉ सुजीत कुमार सिंह ने कहा कि 10 राज्यों में डेल्टा प्लस वैरिएंट के 48 मामले सामने आए हैं। जिसमें महाराष्ट्र में 20, उसके बाद तमिलनाडु (9) और मध्य प्रदेश (7) मामले सामने आए हैं। हालांकि उन्होंने इस बारे में कुछ भी सपष्ट कहने से इंकार कर दिया कि डेल्टा प्लस वैरिएंट दूसरी लहर में आए डेल्टा वैरिएंट की तुलना में अधिक खतरनाक है या नहीं।

महाराष्ट्र के पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख को प्रवतर्न निदेशालय ने किया तलब

मंगलवार को ही केंद्र के स्वास्थय मंत्रालयन ने डेल्टा प्लस वैरिएंट को अपनी चिंता की सूचि में शामिल किया है और राज्यों को इसके रोकथाम के उपाय करने का निर्देश भी दिया है।

गंगा नदी में बारिश के कारण पानी के तेज बहाव से बाहर आए शव, प्रयागराज निगम अंतिम संस्कार में जुटी

ताजा खबरें