1 अप्रैल से इन बैंकों की चेकबुक हो जाएंगी रद्द, नहीं कर सकेंगे लेन-देन

एक अप्रैल से कई बैंकों की चेकबुक (Cheque Book) रद्द हो जाएंगी। इसके बाद इन बैंकों के ग्राहक लेन-देन नहीं कर सकेंगे। ऐसा इसलिए हो रहा है कि क्योंकि कई बैंकों का बड़े सरकारी बैंकों में विलय हो गया है।

Updated On: Mar 16, 2021 12:54 IST

Dastak Online

Photo Source: Google

एक अप्रैल से कई बैंकों की चेकबुक (Cheque Book) रद्द हो जाएंगी। इसके बाद इन बैंकों के ग्राहक लेन-देन नहीं कर सकेंगे। ऐसा इसलिए हो रहा है कि क्योंकि कई बैंकों का बड़े सरकारी बैंकों में विलय हो गया है। इसके बाद से इन बैंकों का कोई भी खाताधारक पुरानी चेकबुक इस्तेमाल नहीं कर सकेगा। यही नहीं, एक अप्रैल से आईऍफएससी कोड भी बदल जाएगा, जिसके बाद आपको लेन-देन करने में दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है।

इन बैंकों की चेकबुक हो जाएंगी रद्द-

जिन बैंकों की चेकबुक रद्द हो जाएगी, उनमे देना बैंक, विजया बैंक, आंध्रा बैंक, ओरिएंट बैंक ऑफ़ कॉमर्स, इलाहाबाद बैंक, यूनाइटेड बैंक और कॉर्पोरेशन बैंक शामिल हैं। इन सभी बैंकों की चेकबुक एक अप्रैल से अमान्य हो जाएगी। बता दें, बैंक ऑफ बड़ौदा में देना बैंक और विजया बैंक का विलय हो चुका है। जबकि PNB में ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया को मर्जर किया जा चुका है।

वहीं, सिंडिकेट बैंक को केनरा बैंक के साथ मर्जर कर दिया गया है। लेकिन सिंडिकेट बैंक के ग्राहकों के पास अभी 30 जून तक का समय है। इसके अलावा, यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया में आंध्रा बैंक और कॉरपोरेशन बैंक को मर्जर हो चुका है। जबकि इलाहाबाद बैंक का इंडियन बैंक में सरकार विलय कर चुकी है। इन सभी बैकों की चेकबुक, IFSC सब 1 अप्रैल से अमान्य हो जाएंगे।

एक साल से मां बनने की कर रही थी कोशिश, बाद में पता चला वो औरत नहीं बल्कि पुरुष है

ऐसे में बैंक ग्राहकों को सलाह दी जाती है कि वो जल्द ही अपनी बैंक ब्रांच जाकर नयी पासबुक और चेकबुक के लिए अप्लाई कर दें। क्योंकि अप्लाई करने के करीब एक हफ्ते बाद ही ग्राहकों को नई चेकबुक जारी की जाएगी। ग्राहकों को नई पासबुक, चेकबुक के लिए कही भी जाने की जरूरत नहीं है। उन्हें अपने उसी बैंक ब्रांच में जाना होगा, जहां उन्होंने अपना खाता खुलवाया हुआ है।

Jasprit Bumrah ने एंकर Sanjana Ganesan संग लिए सात फेरे, देखें वेडिंग Photos

ताजा खबरें