गलवान घाटी में चीनी सैनिक नहीं, मार्शल आर्ट्स में माहिर हत्यारों से भिड़े थे भारतीय वीर जवान

15 जून को भारतीय जवान जिनसे भिड़े वो चीनी सैनिकों नहीं बल्कि मार्शल आर्ट में माहिर हत्यारे थे । ये खबर चीनी मीडिया के हवाले से सामने आए है ।

Updated On: Jun 28, 2020 18:21 IST

Dastak Web

Photo Source : Twitter

15 जून को गलवान घाटी में जो हुआ उसने पूरे देश को गुस्से से भर दिया है ।  गलवान घाटी में 20 भारतीय वीर जवानों की शहादत का बदला लेने के लिए भारतीय सेना और सरकार पूरी तरह से तत्पर है । ऐसे में चीन से एक बेहद हैरान करने वाली खबर सामने आ रही है । जिसके मुताबिक 15 जून को भारतीय जवान जिनसे भिड़े वो चीनी सैनिकों नहीं बल्कि मार्शल आर्ट में माहिर हत्यारे थे । ये खबर चीनी मीडिया के हवाले से सामने आए है । चीनी मीडिया का कहना है कि इन जवानों को कुछ दिन पहले ही सीमा के नजदीक तैनात किया गया था । चीन के आधिकारिक सैन्य समाचार पत्र चाइना नेशनल डिफेंस न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, 15 जून के पहले ही तिब्बत की राजधानी ल्हासा में चीनी सेना ने पांच नए मिलिशिया डिवीजन को तैनात किया था । इस डिवीजन में चीन के माउंट एवरेस्ट ओलंपिक टॉर्च रिले टीम के पूर्व सदस्यों के अलावा मार्शल आर्ट क्लब के लड़ाके शामिल हैं । माना जाता है कि इन्हीं की करतूतों के कारण सीमा पर हिंसक वारदातें देखने को मिलीं ।

Gurgaon और Faridabad में एक जुलाई से खुलेंगे Shopping Malls, ये नियम मानने होंगे

 

15 जून को चीन ने रची साजिश

चीनी मीडिया के इस खुलासे के बाद कई सवाल उठने लगे है । सवाल है कि क्या 15 जून को जो कुछ हुआ या जो होने वाला था उससे चीनी सरकार और सेना अच्छी तरह वाकिफ थी । क्या ये सबकुछ सोची समझी रणनीति के तहत हुआ । जिसके तहत 15 जून से कुछ दिन पहले ही गलवान घाटी में मार्शल आर्ट्स में माहिर हत्यारों को तैनात कर दिया गया ।

 

बेहद घातक होते हैं ये चीनी हत्यारे

  • माउंट एवरेस्ट ओलंपिक टॉर्च रिले टीम के सदस्य पहाड़ों पर चढ़ाई करने में माहिर
  • मार्शल आर्ट क्लब के लड़ाके घातक हत्यारे होते हैं
  • परंपरागत युद्ध में माहिर होते हैं तिब्बती लड़ाके
  • लाठी-भाले, डंडा और रॉड के जरिए युद्ध करने में माहिर
तमिलनाडु में पिता-बेटे की हिरासत में मौत से पूरे देश में गुस्सा, पुलिस पर कार्यवाही की मांग

इन्हीं के भरोसे युद्ध की तैयारी में चीन

लद्दाख में अपनी नीतियों को बदलते हुए बड़ी संख्या में मार्शल आर्ट में माहिर लड़ाकों को भर्ती किया है । ऐसे ही सैनिकों के भरोसे चीन अब भारत से युद्ध करने की तैयारी कर रहा है । पीपुल्स डेली की रिपोर्ट के अनुसार, तिब्बत के पठार इलाके में रहने वाले ये लड़ाके चीनी सेना को नुकीली चीज या लाठी, डंडों से लड़ने की ट्रेनिंग भी दे रहे हैं ।

मॉम काजोल संग न्यासा की मस्ती, न्यासा ने सोशल मीडिया पर शेयर किया वीडियो

ताजा खबरें