दिशा रवि की गिरफ्तारी लोकतंत्र पर हमला, किसानों का समर्थन करना कोई अपराध नही: केजरीवाल

किसानों के विरोध-प्रदर्शन (Farmer Protest) से संबधित ‘टूलकिट' सोशल मीडिया पर साझा करने में संलिप्तता के आरोप में जलवायु कार्यकर्ता दिशा रवि (Disha Ravi) को बेंगलुरू से गिरफ्तार किया गया है।

Updated On: Feb 15, 2021 12:28 IST

Dastak Web 1

Photo Source: Google

किसानों के विरोध-प्रदर्शन (Farmer Protest) से संबधित ‘टूलकिट' सोशल मीडिया पर साझा करने में संलिप्तता के आरोप में जलवायु कार्यकर्ता दिशा रवि (Disha Ravi) को बेंगलुरू से गिरफ्तार किया गया है। आपको बता दें कि दिशा रवि को टूलकिट मामले में शामिल होने के मामले में पांच दिनों के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है। जिसके बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिशा की गिरफ्तारी का विरोध किया है। अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को कहा है कि उनकी गिरफ्तारी लोकतंत्र पर एक अभूतपूर्व हमला है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि '21-साल की दिशा रवि की गिरफ्तारी लोकतंत्र पर अभूतपूर्व हमला है, हमारे किसानों का समर्थन करना कोई अपराध नहीं है।

 

दिल्ली पुलिस के आधिकारिक हैंडल ने माइक्रोब्लॉगिंग साइट पर पोस्ट किया है कि भारत के खिलाफ वैमनस्य फैलाने के लिए रवि और अन्य ने खालिस्तान-समर्थक समूह ‘पोएटिक जस्टिस फाउंडेशन' के साथ साठगांठ की है। पुलिस ने बताया है कि दिशा को दिल्ली पुलिस के साइबर प्रकोष्ठ के दल ने शनिवार को गिरफ्तार किया था। पुलिस ने आरोप लगाया है कि रवि ने टूलकिट को जलवायु कार्यकर्ता ग्रेटा थुनबर्ग के साथ साझा किया था। जिन्होंने इसे ट्विटर पर पोस्ट किया था, और बाद में पूर्व के निर्देशों पर इसे हटा दिया गया था "गलती से इसका विवरण सार्वजनिक डोमेन में मिल गया था।

दिल्ली की एक अदालत ने रविवार को बेंगलुरु की कार्यकर्ता को पांच दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया। पुलिस ने सिखों के साथ न्याय के लिए उसके संबंध का पता लगाने के लिए सात दिनों के लिए पुलिस हिरासत में भेजने का अनुरोध किया था। इसके साथ ही पुलिस ने कहा कि भारत सरकार के खिलाफ कथित तौर पर बड़े स्तर पर साजिश रचने और खालिस्तानी आंदोलन में भूमिका को लेकर जांच करने के लिए हिरासत की आवश्यकता है। आपको बता दें कि सुनवाई के दौरान दिशा रवि अदालत में रो पड़ीं और उन्होने न्यायाधीश से कहा कि उन्होंने केवल दो लाइनें ही संपादित की थीं और वह किसान आंदोलन का समर्थन करना चाहती थीं।

Maharashtra: Jalgaon में सड़क हादसे में 16 मजदूरों की मौत, पीएम मोदी ने जताया शोक

लाइवहिन्दुस्तान ने बताया कि पुलिस टूलकिट मामले में दो और संदिग्धों शांतनु और निकिता की तलाश में है, मुंबई और कई अन्य स्थानों पर छापे मारे जा रहे हैं। रवि फ्राइडे फॉर फ्यूचर नामक एक जलवायु कार्यकर्ता समूह से जुड़ी हुई है, जिसे 2018 में ग्रेटा थुनबर्ग ने शुरू किया था। बेंगलुरु स्थित कार्यकर्ता ने 2019 में एफएफएफ के भारत अध्याय की शुरुआत की और देश में संगठन का नेतृत्व किया।

ड्राइविंग करते समय Google Map का इस्तेमाल पड़ेगा भारी! कट सकता है भारी भरकम चालान

ताजा खबरें