जयपुर के सरकारी अस्पताल में मृत भ्रूण लेकर घूमता है कुत्ता, जानिए क्या है पूरा मामला?

राजस्थान के जयपुर से बेहद लापरवाही करने का एक मामला सामने आया है जहां सरकारी अस्पताल में कुत्ता अपने मुंह में मरा हुआ भ्रूण लेकर घूम रहा है। आपको बता दें कि यह मामला रविवार की शाम जयपुर जिले के सांगानेरी में स्थित सरकारी महिला अस्पताल के गेट नंबर 1 के बाहर एक स्ट्रीट डॉग को देखा गया।

Updated On: Nov 22, 2022 22:39 IST

Dastak Web Team

प्रतीकात्मक तस्वीर (Photo Source- Google)

सोनम शर्मा

राजस्थान के जयपुर से बेहद लापरवाही करने का एक मामला सामने आया है जहां सरकारी अस्पताल में कुत्ता अपने मुंह में मरा हुआ भ्रूण लेकर घूम रहा है। आपको बता दें कि यह मामला रविवार की शाम जयपुर जिले के सांगानेरी में स्थित सरकारी महिला अस्पताल के गेट नंबर 1 के बाहर एक स्ट्रीट डॉग को देखा गया। जिस कुत्ते ने अपने जबड़े में मृत भ्रूण दबा रखा था। जब लोगों ने कुत्ते को पकड़ने की कोशिश की तो कुत्ता भ्रूण को ऑक्सीजन प्लांट के पास छोड़कर अस्पताल की दीवार पर जाकर बैठ गया।

जब जानकारी पुलिस को दी गई

अस्पताल प्रबंधन ने इस मामले को लाल कोठी पुलिस थाना में दर्ज कराया। जिसके बाद पुलिस ने भ्रूण का पोस्टमार्टम कराने के बाद उसे डिस्पोज्ड कर दिया। पोस्टमार्टम में यह पता चला कि भ्रूण 8 महीने का और एक नर था। इसके बाद पुलिस ने मृत बच्चे के परिवार की तलाश शुरू कर दी। जांच में यह पता चला कि अस्पताल में मृत भ्रूण को पैदा किया जा सकता है। ऐसा हो सकता है कि परिवार मृत बच्चे को लेने की इच्छा में ना हो और इसीलिए उन्होंने बच्चे को पास में ही कहीं जमीन में दफना दिया हो। बाद में फिर कुत्ते ने उसे खोज डाला।

थरूर को लेकर फूटी कांग्रेस, नेता बोले थरूर को बाहर नहीं रख सकते

डॉक्टर ने क्या कहा?

महिला अस्पताल की अधीक्षक डॉ आशा वर्मा ने कहा कि अस्पताल परिसर के बाहर एक स्ट्रीट डॉग को मृत भ्रूण के साथ देखा गया। जिसके बाद इसकी जानकारी पुलिस को दी गई और फिर पुलिस ने  भ्रूण को अपने कब्जे में ले लिया।

पुरानी पेंशन योजना पंजाब में लागू होना का लाभ किस-किस को मिलेगा?

पुलिस थाना के इंचार्ज ने क्या कहा?

लालकोठी थाना के इंचार्ज सुरेंद्र सिंह राठौर ने बताया कि महिला अस्पताल के हाउस कीपिंग सुपरवाइजर सोहनलाल वर्मा ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है।अस्पताल परिसर में ही ऑक्सीजन प्लांट के पास मृत भ्रूण मिला था। लेकिन घटना स्थल के आसपास कोई सीसीटीवी भी नहीं है।अस्पताल प्रशासन को 15 नवंबर से पैदा हुए बच्चों के रिकॉर्ड तैयार करने के लिए कहा गया है। कुत्ते के काटने से बच्चे के सिर पर भारी घाव पाए गए।

ताजा खबरें