महाराष्ट्र के पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख को प्रवतर्न निदेशालय ने किया तलब

महाराष्ट्र (Maharashtra) के पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख (Anil Deshmukh) को प्रवतर्न निदेशालय (ED) ने 100 करोड़ रुपए की मनी लॉन्ड्रिंग मामले में रिश्वत लेने के आरोपों में तलब किया है।

Updated On: Jun 26, 2021 11:22 IST

Dastak

Photo Source- Social Media

महाराष्ट्र (Maharashtra) के पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख (Anil Deshmukh) को प्रवतर्न निदेशालय (ED) ने 100 करोड़ रुपए की मनी लॉन्ड्रिंग मामले में रिश्वत लेने के आरोपों में तलब किया है। ईडी ने उन्हें शनिवार को पेश होने के लिए कहा है। 71 साल के देशमुख को मुंबई के बलार्ड एस्टेट इलाके में प्रवर्तन निदेशालय के कार्यालय में संबधित जांच अधिकारी के समझ पेश होने को कहा गया है।

देशमुख को धन शोधन निवारण अधिनियम (Prevention of Money Laundering Act) के तहत समन जारी किया गया है और पेश होने का समय सुबह 11 बजे तक का ही दिया गया था। वहीं इस केंद्रीय एजेंसी ने शुक्रवार रात ही मुंबई और नागपुर में देशमुख से संबधित छापेमारी में उनके निजी सचिव संजीव पलांडे और निजी सहायक कुंदन शिंदे को भी गिरफ्तार किया है। इन दोनों को तलाशी के बाद ईडी के कार्यालय में लाया गया है।

ईडी के अधिकारियों के मुताबिक इन दोनों को शनिवार को ही मुंबई में पीएमएलए की विशेष अदालत के समक्ष पेश किया जाएगा और ईडी वहां इनसे पूछताछ के लिए रिमांड की मांग करेगी। देशमुख और अन्य के खिलाफ ईडी का मामला तब सामने आया जब सीबीआई ने शुरुआती जांच के बाद बॉम्बे हाईकोर्ट के आदेश पर एक नियमित मामला दायर किया।

गंगा नदी में बारिश के कारण पानी के तेज बहाव से बाहर आए शव, प्रयागराज निगम अंतिम संस्कार में जुटी

अदालत ने एजेंसी से देशमुख के खिलाफ मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त परम बीर सिंह द्वारा लगाए गए रिश्वत के आरोपों की जांच करने को कहा था। आरोपों के बाद अप्रैल में अपने पद से इस्तीफा देने वाले देशमुख ने किसी भी गलत काम से इनकार किया है।

ताजा खबरें