ऑर्डर मिलने के बाद भी क्यों नहीं तोड़ा गया दाऊद का घर? फडणवीस ने महाराष्ट्र सरकार से किया सवाल

मुंबई में अभिनेत्री कंगना रनौत का दफ्तर तोड़े जाने के मामले में महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने महाराष्ट्र सरकार पर कोरोना से नहीं बल्कि कंगना से लड़ने का आरोप लगाया।

Updated On: Sep 11, 2020 15:11 IST

Dastak Online

Photo Source: Social Media

आईएएनएस| मुंबई में अभिनेत्री कंगना रनौत का दफ्तर तोड़े जाने के मामले में महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर हमला बोलते हुए कहा है कि दाऊद का घर छोड़ दिया जाता है, लेकिन कंगना का तोड़ दिया जाता है। शुक्रवार को बिहार दौरे के लिए रवाना होने से पहले दिल्ली में पत्रकारों से बातचीत के दौरान फडणवीस ने महाराष्ट्र सरकार पर कोरोना से नहीं बल्कि कंगना से लड़ने का आरोप लगाया।

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा, कंगना कोई बड़ा मुद्दा था नहीं, इस मामले को बड़ा आपने किया है। किसने उसका मकान तोड़ा? आपने तोड़ा। दाऊद के भिंडी बाजार वाले घर को तोड़ने के आदेश के बाद भी एफिडेविट दिया गया कि उसे तोड़ने के लिए मैनपावर नहीं है। दाऊद का घर तो तोड़ने जाते नहीं, कंगना के घर-दफ्तर को तोड़ने जाते हो।

देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार को ऐसा लगता है कि लड़ाई कोरोना से नहीं है बल्कि कंगना से है। उन्होंने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को संबोधित करते हुए कहा, जितनी ताकत आपने कंगना के पीछे लगाई है, उससे ज्यादा कोरोना पर ध्यान देने की जरूरत है।

टोक्यो ओलंपिक किसी भी कीमत पर होना चाहिए: ओलंपिक मंत्री

देवेंद्र फडणवीस ने सीबीआई और एनसीबी की जांच को लेकर कहा कि इससे सुशांत सिंह प्रकरण की सच्चाई सामने आएगी। जिस तरह से ड्रग को लेकर खुलासा हुआ है, उससे पूरे मामले की गहराई तक जाने की जरूरत है।

तारा सुतारिया ने आदर संग अपने रिलेशनशिप को लेकर किया खुलासा, कही ये बात

ताजा खबरें