हिमाचल: बर्फ की चादर से ढका डलहौजी, नया साल मनाने पहुंच रहे सैलानी

हिमाचल प्रदेश में कई स्थानों पर हाल ही में हुई बर्फबारी के बाद से सैलानियों का जमघट लगने लगा है। देश के विभिन्न हिस्सों से खासकर पड़ोसी राज्यों पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ से पर्यटक अपने आकर्षण के केंद्रों पर पहुंचकर नया साल मनाने की तैयारी कर रहे है।

Updated On: Dec 30, 2020 18:41 IST

Dastak Web 1

Photo Source: Google

हिमाचल प्रदेश में कई स्थानों पर हाल ही में हुई बर्फबारी के बाद से सैलानियों का जमघट लगने लगा है। देश के विभिन्न हिस्सों से खासकर पड़ोसी राज्यों पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ से पर्यटक अपने आकर्षण के केंद्रों पर पहुंचकर नया साल मनाने की तैयारी कर रहे है। हिमाचल प्रदेश पर्यटन संघ के अध्यक्ष मोहिंदर सेठ ने कहा कि शिमला, मनाली, डलहौजी और कुफरी सहित प्रमुख पर्यटन क्षेत्रों में अधिकांश होटल क्रिसमस से 27 दिसंबर तक पूरी तरह से बुक थे। और आगे भी 31 दिसंबर से 3 जनवरी तक इनके पूरी तरह से बुक रहने की उम्मीद है।

क्रिसमस पर पर्यटकों की सबसे अधिक संख्या देखी गई

मोहिंदर सेठ ने कहा कि राज्य सरकार ने महामारी के कारण तीन महीने के प्रतिबंध के बाद जुलाई में पर्यटकों के प्रवेश की अनुमति दी थी। लेकिन पहाड़ी राज्यों में क्रिसमस पर पर्यटकों की सबसे अधिक संख्या देखी गई थी। शिमला के पुलिस अधीक्षक मोहित चावला ने कहा कि पुलिस ने शिमला शहर को सुरक्षा के लिए सात क्षेत्रों में विभाजित किया था। और नए साल पर पर्यटकों की भीड़ को नियंत्रित करने के लिए यातायात के उद्देश्यों के लिए आठ क्षेत्रों में विभाजित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सीसीटीवी कैमरे और ड्रोन के जरिए पर्यटकों पर कड़ी निगरानी रखी जाएगी। कुल्लू जिले का मनाली अटल सुरंग अक्टूबर में शुरू होने के बाद से पर्यटकों के लिए सबसे बड़ा आकर्षण बन गया है। मनाली के माल रोड पर पर्यटक जमकर फोटो ले रहे है। यहां के स्थानीय दुकानदार तेजी से कारोबार कर रहे हैं।

बर्फबारी के बाद से पर्यटकों की संख्या में वृद्धि दर्ज की गई

आपको बता दें कि 27 दिसंबर को हुई बर्फबारी के बाद से पर्यटकों की संख्या में वृद्धि दर्ज की गई है। इस बर्फबारी ने राज्य के पर्यटन उद्योग से जुड़े लोगों को खुश कर दिया है। ट्रैवल एजेंट एसोसिएशन ऑफ हिमाचल प्रदेश के अध्यक्ष बुध प्रकाश ठाकुर ने पीटीआई को बताया कि अक्टूबर और नवंबर में सुस्त प्रतिक्रिया के बाद हाल ही में पर्यटकों की आमद बढ़ी है। उन्होंने कहा अगर सरकार बुनियादी ढांचे के विकास और बेहतर हवाई संपर्क की ओर थोड़ा और ध्यान देती है तो मनाली में पर्यटन उच्च स्तर पर पहुंच जाएगा।' मनाली में पूरा टूरिस्ट उद्योग महामारी के कारण लगभग आठ महीने तक बंद रहा और दिसंबर में इसमें तेजी आई है।

डलहौज़ी हिल स्टेशन पर पर्यटकों की आमद काफी बढ़ गई है

भारी बर्फबारी और नए साल की शुरुआत के साथ चंबा जिले के डलहौज़ी हिल स्टेशन पर पर्यटकों की आमद काफी बढ़ गई है। इस क्षेत्र में होटल और पर्यटन से जुड़े अन्य प्रतिष्ठानों में लगभग 65 प्रतिशत बुकिंग हो चुकी है। होटल और रेस्तरां एसोसिएशन डलहौजी के प्रमुख संरक्षक मनोज चड्डा ने कहा है कि इस क्षेत्र में भारी बर्फबारी कई बिंदुओं पर वाहनों के आवागमन के लिए एक बाधा बन गई है। जिससे क्षेत्र में पर्यटकों की संख्या कम हो गई है।

इन चीजों के सेवन से होते हैं कील-मुंहासे, डाइट में ना करें शामिल

एचपीटीडीसी डलहौजी-चंबा के पर्यटक सर्किट प्रबंधक विकास दत्ता ने कहा कि एचपीटीडीसी के होटलों में पर्यटन के लिए सौ प्रतिशत जगह है। और देश के विभिन्न हिस्सों से आकर पर्यटक खजियार और डलहौजी में बर्फबारी का आनंद ले रहे हैं। खजियार में हाल ही में 30 सेंटीमीटर से अधिक बर्फबारी दर्ज हुई है।

Alert! ITR फाइल करने की अंतिम तारीख 31 दिसंबर, वरना देना होगा इतने रूपये जुर्माना

ताजा खबरें