जानें उत्तराखंड के होने वाले मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के बारे में

उत्तराखंड (Uttrakhand) के 11वें मुख्यमंत्री के रुप में शपथ लेने को पुष्कर सिंह धामी (Pushkar Singh Dhami) तैयार हैं। शनिवार को उन्हें भाजपा विधायक दल के नेता चुन लिया गया है। ऐसे में हमारा उनके बारे में जानना जरुरी हो गया है।

Updated On: Jul 3, 2021 19:01 IST

Dastak

Photo Source- Social Media

उत्तराखंड (Uttrakhand) के 11वें मुख्यमंत्री के रुप में शपथ लेने को पुष्कर सिंह धामी (Pushkar Singh Dhami) तैयार हैं। शनिवार को उन्हें भाजपा विधायक दल के नेता चुन लिया गया है। ऐसे में हमारा उनके बारे में जानना जरुरी हो गया है। वे उत्तराखंड के उधम सिंह नगर जिले के खटीमा से दो बार विधायक रहे हैं। वे अब तीरथ सिंह रावत की जगह उत्तराखंड के मुख्यमंत्री बनेंगे। रावत ने राज्य विधानसभा के लिए अपने चुनाव को लेकर संवैधानिक संकट आने के बाद शुक्रवार रात अपना इस्तीफा राज्यपाल को सौंप दिया था।

ताजा चुनावी इतिहास-

45 साल के पुष्कर सिंह धामी 2012 में पहली बार खटीमा से विधायक बने थे और दूसरी बार 2017 में वहीं से विधायक बने। फिलहाल वह बीजेपी के राज्य उपाध्यक्ष भी हैं।

जन्म और इतिहास -

पुष्कर सिंह धामी 1975 में यहां के पिथौरागढ़ जिले में जन्मे थे। धामी ने 33 सालों तक आरएएस और इससे संबधित निकायों में विभिन्न पदों पर काम किया है। वे 10 साल तक एबीवीपी के सदस्य भी रहे थे, जिसके दौरान उन्होंने उत्तरप्रदेश के अवध प्रांत में लंबे समय तक काम किया था।

वे 2002 से 2008 तक दो बार भाजपा के राज्य युवा मोर्चा के अध्यक्ष भी रहे। 2001-2002 के दौरान उस समय के मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी के ओएसडी भी रहे हैं। राज्य में शहरी निगरानी समिति के उपाध्यक्ष भी रहे हैं। जिसमें उन्हें राज्यमंत्री का दर्जा प्राप्त था। उन्होंने कानून की पढ़ाई में ग्रेजुएशन की है।

भाजपा कार्यकर्ताओं में धामी को एक युवा और सक्रिय नेता के रुप में देखा जाता है। लेकिन फिलहाल राज्य में उनके ऊपर पार्टी की आकांक्षाओं पर खरे उतरने के साथ नए मुख्यमंत्री के रुप में महत्वपूर्ण जिम्मेदारियां हैं।

जातीय समीकरण-

पुष्कर सिंह धामी पहाड़ी क्षेत्र के ठाकुर समुदाय से हैं, अगले ही साल राज्य में विधानसभा चुनाव हैं। ऐसे में माना जा रहा है कि उन्हें भाजपा द्वारा मुख्यमंत्री चुनकर अगले साल होने वाले चुनावों से पहले जातिय और क्षेत्रीय समीकरणों को संतुलित करने की कोशिश की गई है।

आमिर खान और किरण राव ने एक दूसरे को दिया तलाक, पढ़ें दोनों ने साझा बयान में क्या कहा

ताजा खबरें