ऑक्सीजन लेवल और प्लस रेट नापने वाली मोबाइल एप्लिकेशन हुई लॉन्च, कैमरे और फ्लैश से करती है काम

अब कलकत्ता की एक कंपनी केयरनाऊ हेल्थकेयर (Carenow Healthcare) ने एक ऐसी एप्लिकेशन विकसित की है, जिसका इस्तेमाल कर आप अपने मोबाइल से ही अपना ऑक्सीजन लेवल और प्लस रेट नाप सकते हैं।

Updated On: May 21, 2021 13:05 IST

Ajay Chaudhary

Photo Source- CareNow Healthcare

कोरोना महामारी की दूसरी लहर में ऑक्सीमीटर (Oxymeter) और इस तरह का काम करने वाली स्मार्टवॉच की भी मांग तेजी से बढ़ी। मेडिकल स्टोर पर एक उंगली के आकार के ऑक्सीमीटर अपने असल रेट से दोगुने दामों पर खूब बिके। अब कलकत्ता की एक कंपनी केयरनाऊ हेल्थकेयर (CareNow Healthcare) ने एक ऐसी एप्लिकेशन विकसित की है, जिसका इस्तेमाल कर आप अपने मोबाइल से ही अपना ऑक्सीजन लेवल और प्लस रेट नाप सकते हैं।

कैसे प्रयोग की जा सकती है ये एप्लिकेशन-

'केयरप्लिक्स वाइटल' (CarePlix Vital) नाम की इस एप्लिकेशन को इस्तेमाल करने के लिए आपको अपनी उंगली को मोबाइल के कैमरे और फ्लैशलाइट पर कुछ सेकेंड के लिए रखना है। ऐसा करते ही आपका ऑक्सीजन लेवल और प्लस रेट स्क्रीन पर दिखाई दे जाएगा। ऐसा दावा कंपनी की तरफ से किया जा रहा है।

कंपनी के अनुसार लोगों द्वारा जो प्लस मीटर या स्मार्टवाच इस कार्य के लिए इस्तेमाल में लाई जाती हैं उनमें फोटो तकनीक (जिसे अंग्रेजी में photoplethysmography-PPG कहते हैं) होती है। कंपनी के अनुसार वे इस तकनीक का प्रयोग मोबाइल के रियर कैमरा और फ्लैशलाइट के जरिए कर रहे हैं।

एक बार हम मोबाइल के रियर कैमरे और फ्लैशलाइट को कवर कर लें और 40 सेकेंड के करीब उसे स्कैन करें, ऐसे में हम पीपीजी ग्राफ के अनुसार अलग अलग लाइट की तीव्रता नापते हैं। जिससे हमें पल्स रेट और ऑक्सीजन लेवल का पता चल पाता है।

एप्लिकेशन का प्रयोग करने के लिए कराना होगा पंजीकरण-

केयरप्लिक्स वाइटल आपके लिए तभी काम कर पाएगी जब आप उसपर अपना पंजीकरण करा लेंगे। एप्लिकेशन का एआई उंगली की कैमरे पर सही प्लेसमेंट करने में मदद करता है और यूजर को इसके लिए कुछ दिशानिर्देश देता है। जिससे परिणाम सटीक आ सकें। ये एप्लीकेशन इंटरनेट भी यूज करती है और अपके परिणामों को सर्वर पर याद रखने के लिए रिकॉर्ड भी कर लेती है।

भारत में लॉन्च हुई सेल्फ कोरोना टेस्ट किट कोविसेल्फ, अब घर बैठे टेस्ट कर लें परिणाम

कंपनी ने पूरा किया एप्लीकेश का सफल ट्रायल-

कंपनी के अनुसार उसने इस साल की शरुआत में एप्लिकेशन का क्लिनिकल ट्रायल भी ले लिया है। ये ट्रायल 1200 लोगों पर कोलकाता के सेठ सुखलाल करनानी मेमोरियल अस्पताल में लिया गया है। डॉक्टरों की मौजूदगी में अस्पताल की ओपीडी में ये ट्रायल लिया गया है। जिसमें केयरप्लिक्स वाइटल द्वारा नापे जाने वाले प्लस रेट को 96 प्रतिशत तक सही और ऑक्सीजन लेवल को 98 प्रतिशत तक सही पाया गया है।

केंद्र का दावा- जून अंत तक देश में केवल 15-20 हजार रह जाएंगे कोरोना मामले

ताजा खबरें