फिर बढ़े पेट्रोल और डीजल के दाम, राजस्थान में पेट्रोल 99 रुपये के पार, जानें दिल्ली का भाव

राजस्थान (Rajasthan) में रविवार को पेट्रोल (Petrol) की कीमत (Price) 99 रुपये प्रति लीटर को पार कर गई, जबकि छठवें दिन दरों में बढ़ोतरी के बाद डीजल (Diesel) 91 रुपये के ऊपर पहुंच गया है।

Updated On: Feb 14, 2021 17:45 IST

Dastak Web 1

Photo Source: Social Media

राजस्थान (Rajasthan) में रविवार को पेट्रोल (Petrol) की कीमत (Price) 99 रुपये प्रति लीटर को पार कर गई, जबकि छठवें दिन दरों में बढ़ोतरी के बाद डीजल (Diesel) 91 रुपये के ऊपर पहुंच गया है। वैश्विक बाजारों में तेजी के चलते स्थानीय कंपनियों ने रविवार को पेट्रोल 29 पैसे और डीजल 32 पैसे प्रति लीटर महंगा कर दिया है। जिसके बाद राज्य के करों को मिलाकर ईंधन की खुदरा कीमतें नए रिकार्ड स्तर पर पहुंच गयी हैं। राष्ट्रीय राजधानी में पेट्रोल 88.73 रुपये लीटर और डीजल 79.06 रुपये की कीमत पर पहुंच गया है। राजस्थान, जो देश में ईंधन पर सबसे अधिक वैट वसूलता है। इसके असर से राज्य के श्रीगंगानगर शहर में पेट्रोल 99.29 रुपये और डीजल उछलकर 91.17 रुपये प्रति लीटर हो गया है।

राजस्थान सरकार ने पिछले महीने पेट्रोल और डीजल पर वैट 2 रुपये प्रतिलीटर कम किया था। इसके बावजूद, राज्य में पेट्रोल पर वैट की दर 36 प्रतिशत और प्रति किलो लीटर 1500 रुपये के सड़क उपकर के चलते सबसे अधिक है। राज्य में डीजल पर 26 रुपये प्रति लीटर के राज्य स्तरीय कर के अलवा 1,750 रुपये प्रति किलो लीटर का सड़क उपकर लगता है। श्रीगंगानगर में ब्रांडेड या प्रीमियम पेट्रोल की कीमत रविवार को 102.07 रुपये प्रति लीटर और इसी तरह के ग्रेड डीजल की कीमत 94.83 रुपये थी। दिल्ली में सामान्य पेट्रोल 88.73 रुपये प्रति लीटर जबकि प्रीमियम ईंधन की कीमत 91.56 रुपये है। सामान्य डीजल की कीमत 79.06 रुपये के मुकाबले ब्रांडेड ईंधन 82.35 रुपये में आता है।मुंबई में सामान्य पेट्रोल और डीजल की कीमत अपने उच्चतम स्तर 95.21 रुपये और डीजल की कीमत बढ़कर 86.04 रुपये हो गई है।

दीपिका पादुकोण ने अपना वीकेंड मूड फैंस के संग किया साझा, रणवीर ने किया ये कमेंट

प्रीमियम उत्पादों की दरें क्रमश: 97.99 और 89.27 रुपये लीटर हैं। लगातार छह दिन की बढ़ोतरी से पेट्रोल 1.80 रुपये और डीजल 1.88 रुपये महंगा हो चुका है। कीमतों में लगातार बढ़ोतरी की कांग्रेस सहित विपक्षी दलों ने आलोचना की है, उन्होने आम आदमी पर बोझ कम करने के लिए करों में तत्काल कटौती की मांग की है। हालांकि, पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने पिछले सप्ताह संसद में कहा था कि पेट्रोलियम उत्पादों पर उत्पाद शुल्क घटाने का फिल हाल कोई विचार नहीं है। उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय तेल की कीमतें बढ़ गई हैं, वैश्विक बाजार में कोविड संकट के बाद पहली बार कच्चे तेल का भाव 61 डालर प्रति बैरल तक चला गया है। केंद्र सरकार पेट्रोल पर 32.9 रुपये प्रति लीटर और डीजल पर 31.80 रुपये प्रति लीटर उत्पाद शुल्क लगा रही है।

ओडिशा में खुला ‘One Rupee Clinic’ कराएं ये चेकअप

ताजा खबरें