Rail Roko Andolan: हरियाणा में पटरियों पर उतरे किसान, जानें किन राज्यों में प्रदर्शन जारी

Rail Roko Andolan: कृषि कानून (Farm Bills) के खिलाफ किसानों का विरोध प्रदर्शन (Kisan Andolan) जारी है। किसान इन कानून को वापस लेने के लिए केंद्र सरकार से अपनी मांग मंगवाने के लिए आज रेल रोको आंदोलन कर रहे हैं।

Updated On: Feb 18, 2021 14:30 IST

Dastak Online

Photo Source: Social Media

Rail Roko Andolan: कृषि कानून (Farm Bills) के खिलाफ किसानों का विरोध प्रदर्शन (Kisan Andolan) जारी है। किसान इन कानून को वापस लेने के लिए केंद्र सरकार से अपनी मांग मंगवाने के लिए आज रेल रोको आंदोलन कर रहे हैं। ये आंदोलन दोपहर 12 बजे से शुरू हो गया है, जिसके चलते सभी किसान अलग- अलग राज्यों में पटरियों पर उतर गये हैं। रेल रोको आंदोलन शाम 4 बजे खत्म होगा। वहीं, इस आंदोलन के चलते कई ट्रेन रूट प्रभावित भी हुए हैं।

हरियाणा में पटरियों पर उतरे किसान-

रेल रोको आंदोलन के तहत हरियाणा के सोनीपत, पलवल, अंबाला में किसान पटरियों पर उतर आये हैं। इस आंदोलन में महिलाएं भी शामिल हैं। वहीं, पलवल में किसानों ने रेलवे ट्रैक को ब्लॉक कर दिया है। हालांकि, यहां पर सुरक्षाकर्मी तैनात है। कुरुक्षेत्र में गीता जयंती एक्सप्रेस ट्रेन को भी रोका गया है।

जम्मू-कश्मीर में भी पटरियों पर आये किसान-

जम्मू-कश्मीर में यूनाइटेड किसान मोर्चा के किसान भी रेल रोको आंदोलन में उतर आये हैं। 4 घंटे के राष्ट्रव्यापी आंदोलन में किसान जम्मू के चन्नी हिमत क्षेत्र में रेलवे ट्रैक पर बैठे हैं और जमकर नए कृषि कानून का विरोध कर रहे हैं। इस आंदोलन में महिला भी शामिल हैं।

पंजाब में पटरियों पर लेटे किसान- 

पंजाब के अमृतसर में किसान मज़दूर संघर्ष कमेटी ने रेल रोको आंदोलन के तहत रेलवे ट्रैक पर विरोध प्रदर्शन किया है। इसके अलावा, फतेहगढ़ साहिब में किसान संगठनों ने रेल रोकी। कृषि कानूनों के खिलाफ आज किसान संगठन रेल रोको आंदोलन कर रहे हैं।

वहीं, बिहार में भी किसानों के रेल रोको आंदोलन के आह्वान पर जन अधिकार पार्टी (JAP) के कार्यकर्ताओं ने पटना में रेल रोकी। और जमकर विरोध प्रदर्शन किया है।

राकेश टिकैत ने कही ये बात-

वहीं, रेल रोको आंदोलन शुरू होने से पहले भारतीय किसान यूनियन प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि आंदोलनकारी पूरा ध्यान रखेंगे कि यात्रियों को परेशानी न हो। उन्होंने यह भी कहा कि 'हम लोगों को पानी, दूध, लस्सी और फल वगैरह देंगे और उन्हें बताएंगे कि हमारी समस्या क्या है।

बॉम्बे हाईकोर्ट की महिला जज को भेजे कंडोम के 150 पैकेट, जानें क्या है माजरा

ताजा खबरें