किसानों के भारत बंद को लेकर राकेश टिकैत ने कह दी ये बड़ी बात

भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने किसानों के भारत बंद (Farmers Bharat Bandh) को सफल बताया है। टिकैत ने कहा कि ये उन लोगों के मुंह पर तमाचा है जो किसानों के इस आंदोलन को केवल तीन राज्यों तक ही सीमित बता रहे थे।

Updated On: Sep 27, 2021 19:28 IST

Dastak

File Photo (Photo Source: Social Media)

भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने किसानों के भारत बंद (Farmers Bharat Bandh) को सफल बताया है। टिकैत ने कहा कि ये उन लोगों के मुंह पर तमाचा है जो किसानों के इस आंदोलन को केवल तीन राज्यों तक ही सीमित बता रहे थे। टिकैत ने ये बयान 10 घंटे चले भारत बंद के बाद सोमवार शाम चार बजे दिया। टिकैत ने कहा कि संयुक्त किसान मोर्चे का भारत बंद सफल रहा है। देशभर के किसानों ने सड़कों पर आकर अपना गुस्सा जाहिर किया है।

टिकैत के अनुसार केंद्र सरकार के तीन काले कृषि कानूनों के खिलाफ ​किसानों के भारत बंद को देशभर के किसानों के अलावा मजदूरों, व्यापारियों और ट्रेड यूनियनों का भी समर्थन मिला है। देशभर के राजनीतिक दलों ने भी इस बंद का समर्थन किया है। टिकैत के अनुसार देशभर के मजदूर चाहे वह किसी भी क्षेत्र में काम करते हों वे सब किसानों के साथ उनकी मांगों के समर्थन में खड़े हैं।

देशभर के विभिन्न शहरों में किसानों के भारत बंद के कारण आम जन जीवन प्रभावित हुआ। इस दौरान किसानों ने आम सड़कों से लेकर हाईवे तक पर धरना दिया और रेलवे ट्रैक पर भी विभिन्न स्थानों पर किसान जमा हो गए। रिपोर्ट्स के मुताबिक बंद का सबसे अधिक असर पंजाब और हरियाणा में ही देखने को मिला। सुबह छह बजे से लेकर शाम चार बजे तक किसानों का भारत बंद चला।

टिकैत ने किसानों को दिया धन्यवाद-

राकेश टिकैत ने बंद को सफल बनाने के लिए इसमें हिस्सा लेने वाले किसानों को धन्यवाद बोला है। टिकैत ने अंग्रेजी न्यूज वेबसाइट इंडिया टुडे के हवाले से कहा कि बंद के दौरान देशभर में कहीं पर भी हिंसा देखने को नहीं मिली है। जिसके लिए देश के किसान और मजदूर देश के सभी नागरिकों को धन्यवाद बोल रहे हैं साथ ही टिकैत ने बंद में हिस्सा लेने वाले किसानों के प्रति अपना आभार प्रकट किया है। टिकैत ने कहा कि किसानों का ये प्रदर्शन तीन काले कानून वापस न होने तक और एमएसपी पर सरकार की तरफ से गारंटी न मिलने तक जारी रहेंगे।

टिकैत ने आंदोलन विरोधियों को दिया जवाब-

राकेश टिकैत ने विरोधियों पर तंज कसते हुए कहा कि जिन्हें लगता था कि किसान आंदोलन केवल तीन राज्यों तक सीमित है आज का भारत बंद उन लोगों के मुंह पर तमाचा है। टिकैत ने कहा कि उन लोगों को अपनी आंखे खोलनी चाहिए और देखना चाहिए कि पूरा देश किसानों के साथ आकर खड़ा है।

सरकार को किसानों की समस्या का समाधान निकालना चाहिए। उत्तरप्रदेश में सरकार की तरफ से जो गन्ना मूल्य घोषित किए गए हैं वो किसानों के साथ केवल एक मजाक है। गन्ना की कीमत में बढ़ोतरी के लिए भी किसान सड़कों पर आंदोलन करेंगे। राकेश टिकैत ने विरोधियों पर तंज कसते हुए कहा कि जिन्हें लगता था कि किसान आंदोलन केवल तीन राज्यों तक सीमित है आज का भारत बंद उन लोगों के मुंह पर तमाचा है। टिकैत ने कहा कि उन लोगों को अपनी आंखे खोलनी चाहिए और देखना चाहिए कि पूरा देश किसानों के साथ आकर खड़ा है।

हरियाणा में प्राथमिक शिक्षा से लेकर कालेज शिक्षा तक के हालात बेहद नाजुक: अभय सिंह चौटाला

टिकैत ने कहा कि भारत बंद के कारण कुछ लोगों को सड़क पर परेशानी का सामना करना पड़ा होगा लेकिन खेती कानूनों की खातिर उन्हें ये परेशानी भूल जानी चाहिए। उन्हें देखना चाहिए कि किसान 10 माह से सडकों पर लेकिन अंंधी और बहरी सरकार उनकी एक नहीं सुन रही। टिकैत के अनुसार अपनी मांगे पूरी न होने तक किसान ऐसे ही डटे रहेंगे।

ताजा खबरें