स्कूल में बच्चों का यौन शोषण करता था शिव शंकर बाबा, तमिलनाडु पुलिस ने दिल्ली से किया गिरफ्तार

दिल्ली में एक स्वयंभू आध्यात्मिक गुरु (Self Made Spiritual Guru) शिव शंकर बाबा (Shiv Shankar Baba) को यौन शोषण (Sexual Abuse) के आरोपों में तमिलनाडु पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

Updated On: Jun 16, 2021 19:06 IST

Dastak

Photo Source- Social Media

दिल्ली में एक स्वयंभू आध्यात्मिक गुरु (Self Made Spiritual Guru) शिव शंकर बाबा (Shiv Shankar Baba) को यौन शोषण (Sexual Abuse) के आरोपों में तमिलनाडु पुलिस ने गिरफ्तार किया है। तमिलनाडु अपराध शाखा जांच विभाग (CB-CID) ने चैन्नई के पास केलमबक्कम (Kelambakkam) में बाबा द्वारा चलाए जा रहे स्कूल के नाबालिग बच्चों और छात्राओं द्वारा यौन शोषण की शिकायतों के बाद बुधवार को दिल्ली से बाबा को गिरफ्तार किया है। मामल्लापुरम ऑल वुमन पुलिस स्टेशन स्वंयभू बाबा के खिलाफ तीन मामले दर्ज किए थे।

पुलिस ने आईपीसी की विभिन्न धारओं, पोक्सो एक्ट और तमिलनाडु महिला उत्पीड़न निषेध अधिनियम की विभिन्न धाराओं में बाबा के खिलाफ मामला दर्ज किया था। ये मामला कुछ दिन पहले अपराध शाखा जांच विभाग को हस्तांतरित कर दिया गया था। इससे पहले बाबा ने तमिलनाडु बाल अधिकार संरक्षण आयोग (टीएनसीपीसीआर) की सुनवाई को यह कहते हुए खारिज कर दिया कि उन्हें दिल का दौरा पड़ा है और वो देहरादून में है।

तमिलनाडु अपराध शाखा जांच विभाग (सीबी-सीआईडी) ​​की टीम ने पहले तो बाबा के बताए अनुसार देहरादून के एक अस्पताल में उसकी तलाश की। वहां पुलिस को कुछ हाथ नहीं लगा। लेकिन बाद में पुलिस ने दिल्ली पुलिस की मदद से उसे राजधानी के बाहरी इलाके से गिरफ्तार कर लिया है। शिवशंकर बाबा को चेन्नई वापस ले जाया जा रहा है, उसके बाद बाबा के खिलाफ पुलिसिया जांच को आगे बढ़ाया जाएगा। बाबा के अलावा स्कूल दो अन्य शिक्षकों पर भी आईपीसी और पोक्सो की समान धाराओं में मामला दर्ज किया गया है।

ये सब कड़ियां तब खुलनी शुरु हुई जब एक फैक्लटी के सदस्य को यौन उत्पीड़न के आरोप में पुलिस ने गिरफ्तार किया। उसके बाद बहुत से पीडित बच्चे सामने आए और उन्होंने अपने साथ हुए यौन उत्पीड़न की कहानियों को सामने रखा। उन्होंने बताया कि स्कूल के समय उन्हें किस तरह इस दुर्व्यवहार का सामना करना पड़ा। उनमें से एक ने आरोप लगाया कि शिव शंकर बाबा उसे परेशान करते थे और इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर बड़े स्तर पर शेयर किया गया था। जिसपर स्कूल के कई पूर्व छात्र पीडित छात्रा के साथ खड़े दिखाई दिए थे।

तो काजोल ने रिजेक्ट कर दी थी गदर? अभिनेत्रियां सन्नी देओल को अपने स्टैंडर्ड के अनुरुप नहीं मानती थी!

छात्राओं के अनुसार शिव शंकर बाबा उन्हें अपने कमरे में बुलाते थे। बाबा नशा करते थे और उसके बाद यौन शोषण करते थे। नाबालिग छात्रों ने बाबा पर उन्हें अल्कोहल जैसा नशीला पदार्थ दिए जाने का आरोप भी लगाया है। बाबा के खिलाफ आईपीसी की धारा 354, 363,365 और 366 और पॉक्सो की कई धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।

Gucci की 35000 की बेल्ट की तुलना मां ने डीपीएस की 150 रुपए की बेल्ट से कर दी, वीडियो हुआ वायरल

ताजा खबरें