Gurgaon और Faridabad में एक जुलाई से खुलेंगे Shopping Malls, ये नियम मानने होंगे

गुड़गांव और फरीदाबाद के शॉपिंग मॉल बंद पड़े थे। हरियाणा सरकार ने एक जुलाई से प्रदेश के इन दोनों बडे शहरों में शॉपिंग-मॉल फिर से खोलने का फैसला किया है। मॉल सुबह 9 बजे से लेकर रात 8 बजे तक ही खुल पाएंगे।

Updated On: Jun 28, 2020 17:00 IST

Dastak

प्रतीकात्मक तस्वीर (Photo Source- Pixabay)

COVID-19 के प्रकोप के कारण पिछले तीन महीने से गुड़गांव और फरीदाबाद(Gurgaon and Faridabad) के शॉपिंग मॉल(Shopping Malls) बंद पड़े थे। हरियाणा सरकार ने एक जुलाई से प्रदेश के इन दोनों बडे शहरों में शॉपिंग-मॉल फिर से खोलने का फैसला किया है। इसके साथ ही एसओपी(Standard Operating Procedures) का पालन करना भी अनिवार्य होगा। गुडगांव और फरीदाबाद राजधानी दिल्ली के नजदीक हरियाणा के दो बड़े शहर हैं। एसओपी के नियमों के मुताबिक मॉल सुबह 9 बजे से लेकर रात 8 बजे तक ही खुल पाएंगे। मॉल के अंदर पडने वाले सिनेमा हॉल, गेम की दुकान और बच्चों के खेलने का स्थान अभी बंद ही रहेगा।

मॉल में आने वाले ग्राहकों को ये नियम मानने होंगे-

एसओपी चार तरह के लोगों के लिए बनाए गए हैं जिसमें मॉल के मालिक, ग्राहक, दुकानदार, खाने की वस्तु बेचने वाले दुकानदार और नगरपालिका। मॉल में आपने वाले हर व्यक्ति को मॉल में आने के दौरान अपने चहरे को मास्क से ढकना होगा। सोशल डिस्टेंसिग रखनी होगी। फोन में आरोग्य सेतु एप्प भी रखनी होगी। इसके अलावा खांसने और थुकने आदि का भी ध्यान रखना होगा। मॉल में आने के बाद अगर खांसी या थूक आता है तो आपको अपने साथ टिश्यू पेपर रखना होगा। इस्तेमाल के बाद टिश्यू का सही तरीके से निस्तरण भी करना होगा।

मॉल मालिकों और दुकानदारों को ये नियम मानने होंगे-

एसओपी में मालिकों के लिए भी हिदायतें दी गई हैं। जिसके तहत सामाजिक दूरी आदि के अलावा, फेस मास्क, साफ हाथ, हर विजिटर की थर्मल स्कैनिंग दुकान में आने से पहले करने का भी आदेश है। दुकान के अंदर ज्यादा भीड़ भी न हो इस बात का ध्यान भी मालिक को रखना है।

मॉल मालिको को अगर वैलेट पार्किंग की सुविधा है तो उसे भी खुली रखने के निर्देश दिए गए हैं। ऐसे में कार के स्टेयरिंग, दरवाज़े के हैंडल, कीज़, आदि" को सही तरीके से डिसइन्फेक्ट करना होगा। एस्केलेटर पर भी एक स्टेप की दूरी के साथ लोग आ जा सकेंगे।

Delhi में 24 घंटे के नोटिस पर शुरु हो सकती है Metro सेवा, ये हैं सफर के नए नियम

रेस्तरां में बैठ पाएंगे केवल 50 प्रतिशत ग्राहक-

एसओपी के अनुसार सभी रेस्तरां और फूड कोर्ट आदि को 50 प्रतिशत सीटों पर ही ग्राहकों के बैठने की अनुमति दी गई है। खाने के दौरान ग्राहक एक दूसरे से दूरी बनाए रखें ये भी सुनिश्चित करने को कहा गया है। अगर मॉल में कोई संदिग्ध बीमार व्यक्ति दिखता है तो उसे डाक्टरों के आने तक अलग क्षेत्र में रखा जाए, उसे फेस मास्क कवर दिया जाएगा। अधिकारियों और निकटतम स्वास्थय केंद्र को जिला हेल्पलाईन पर संपर्क कर अवगत कराएं।

नियमों का पालन कराना निगम की जिम्मेदारी-

मॉल में सही तरीके से सैनेटाईजेशन हो रहा है के नहीं, अन्य नियमों का पालन हो रहा है या नहीं इसकी जिम्मेदारी नगर निगम को दी गई है। जो व्यक्ति या ग्राहक मॉल में बिना मास्क के घूमता हुआ दिखाई देगा उनके 500 रुपए के चालान काटने की जिम्मेदारी नगर निगम की ही होगी।

तमिलनाडु में पिता-बेटे की हिरासत में मौत से पूरे देश में गुस्सा, पुलिस पर कार्यवाही की मांग

ताजा खबरें