700 रुपए के लिए तीन नाबालिगों ने 45 साल के युवक को उतारा मौत के घाट

बाहरी दिल्ली के सुल्तानपुरी इलाके में रात को एक 45 साल के व्यक्ति को तीन नाबालिग लड़कों ने मौत के घाट उतार दिया। मृतक के पास नगदी के रुप में बटुए में भी केवल 700 रुपए ही थे।

Updated On: Jun 28, 2021 11:49 IST

Dastak

प्रतीकात्मक तस्वीर (Photo Source: Google)

बाहरी दिल्ली के सुल्तानपुरी इलाके में रात को एक 45 साल के व्यक्ति को तीन नाबालिग लड़कों ने मौत के घाट उतार दिया। ये तीनों रात के अंधेरे में पीडित व्यक्ति से नगदी छीनना चाहते थे, मृतक के पास नगदी के रुप में बटुए में भी केवल 700 रुपए ही थे। पुलिस के अनुसार मृतक की पहचान रविंद्र बिष्ट के रुप में हुई है। तीनों ने कथित रुप से चाकू मारकर रविंद्र की हत्या की है। वे उससे लूटपाट करना चाहते, घटना शुक्रवार रात की है।

पुलिस द्वारा मीडिया को दी गई जानकारी के अनुसार तीनों आरोपी लड़कों की उम्र 17 साल के करीब है। इन तीनों को पुलिस ने शनिवार देर रात मृतक बिष्ट के बटुए के साथ गिरफ्तार किया है। बिष्ट के बटुए में 700 रुपए और उसका आधार कार्ड था। पुलिस ने रविवार को इस संबध में मीडिया के समक्ष जानकारी देते हुए बताया कि उन्होंने बटन से निकलने वाला चाकू भी इनसे बरामद किया है, यही चाकू कथित तौर पर वारदात में इस्तेमाल किया गया था।

पुलिस के अनुसार नाबालिग लडकों ने उन्हें पूछताछ में बताया कि शराब पीने की आदात के चलते वे लोगों से पैसे और कीमती सामान छीन लिया करते थे। उन्होंने शुक्रवार को उस व्यक्ति की हत्या भी मोबाइल फोन और नगदी छीनने के लिए ही की है, जिससे उन्होंने शराब खरीदने की योजना बनाई थी।

गंगा नदी में बारिश के कारण पानी के तेज बहाव से बाहर आए शव, प्रयागराज निगम अंतिम संस्कार में जुटी

मृतक रविंद्र बिष्ट बाहरी दिल्ली नांगलोई के रहने वाले थे और उनके घर से एक किलोमीटर की दूरी के करीब ही उन्हें चाकू मारा गया था। बिष्ट मंगोलपुरी के एक कारखाने में काम करते थे। बिष्ट अपने पीछे पत्नी और दो बच्चे छोड गए हैं। उनकी पत्नी कमला गृहिणी हैं और 19 साल की बेटी मेघना एक प्राईवेट कंपनी में काम करती है और बेटा नवनीत अभी 10 वीं में पढ़ रहा है।

Akshay Kumar और Nupur Sanon म्यूजिक वीडियो Filhaal-2 में फिर आएंगे एक साथ नजर

ताजा खबरें