ट्यूशन टीचर ने स्टूडेंट्स को लगाया 'दिमाग तेज करने वाला इंजेक्शन', पुलिस ने किया गिरफ्तार

देश की राजधानी दिल्ली से एक अजीबोगरीब हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। दरअसल, दिल्ली के मंडावली इलाके में एक ट्यूशन टीचर अपने स्टूडेंट्स का दिमाग तेज करने के लिए उन्हें इंजेक्शन लगाता था।

Updated On: Feb 15, 2021 16:15 IST

Dastak Online

Photo Source: Google

देश की राजधानी दिल्ली से एक अजीबोगरीब हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। दरअसल, दिल्ली के मंडावली इलाके में एक ट्यूशन टीचर अपने स्टूडेंट्स का दिमाग तेज करने के लिए उन्हें इंजेक्शन लगाता था। इस ट्यूशन टीचर के पास करीब 40 से 50 स्टूडेंट्स पढ़ने आते थे, जिन्हें वो इंजेक्शन लगा चुका था। इस मामले के सामने आते ही पुलिस हरकत में आ गई और ट्यूशन टीचर को गिरफ्तार कर लिया।

कैसे हुआ इसका खुलासा-

ट्यूशन पढ़ने आने वाले एक स्टूडेंट को भी आरोपी टीचर ने दिमाग तेज करने वाले इंजेक्शन देने की बात कही थी। लेकिन उस स्टूडेंट ने इंजेक्शन लगवाने से मना कर दिया था। जिसके बाद उस स्टूडेंट ने ये बात अपने घरवालों को बताई, जिसके बाद उसके घरवालों ने पुलिस को इस मामले के बारे में जानकारी दी। इस मामले की जांच करने के बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

आरोपी की पहचान संदीप माथुर के रूप में की गई है। वह सेकेंड ईयर का कॉलेज स्टूडेंट है। उसको इंजेक्शन लगान का आईडिया यूट्यूब पर वीडियो देखकर आया था। स्टूडेंट्स का दिमाग तेज करने के लिए नार्मल सलाइन के इंजेक्शन का इस्तेमाल किया है।

हरियाणा पुलिस ने युवराज सिंह के खिलाफ दर्ज की FIR, LIVE चैट के दौरान किया था ये गलत कॉमेंट

क्या है सलाइन इंजेक्शन-

आमतौर पर पानी और नमक का घोल होता है। वह भी ऐसा घोल जिसमें नमक यानी NaCl की मात्रा बहुत कम होती है। 1 हजार मिलीलीटर पानी के घोल में 9 ग्राम नमक को घोल कर नॉर्मल सेलाइन का घोल बनाया जाता है। इसको शरीर में डिहाइड्रेशन को कम करने के लिए चढ़ाया जाता है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक इसके इंजेक्शन का कोई घातक असर तो नहीं होता लेकिन गलत तरीके से इंजेक्शन लगाने की वजह से सूजन और अंदरूनी घाव जरूर हो सकते हैं।

IB ACIO 2021 Exam: Admit Card जारी, mha.gov.in से करें डाउनलोड

ताजा खबरें