उमर खालिद एक बार फिर हिरासत में, गैर-कानूनी गतिविधि में शामिल होने का लगा आरोप

उमर खालिद की गिरफ्तारी से पहले रविवार को दिल्ली पुलिस ने कुछ नामों का जिक्र अपने बयान में किया था। जो उत्तर पूर्वी दिल्ली हिंसा के सिलसिले में संदेह के घेरे में हैं।

Updated On: Sep 14, 2020 11:40 IST

Dastak Web Team

Photo Source: Social media

दिल्ली हिंसा में कई बड़े नेताओं और कुछ प्रोफेसर का चार्जशीचट में नाम आने के बाद अब जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के पूर्व छात्र उमर खालिद को गिरफ्तार कर लिया गया है। उमर खालिद पर पहले से ही यूएपीए(UAPA) के तहत का केस दर्ज है। अब दिल्ली हिंसा के मामले में नाम आने से उमर खालिद एक बार फिर चर्चा में आ गए हैं। गौरतलब हो कि उमर खालिद ने एंटी-सीएए प्रोटेस्ट में काफी सक्रिय भूमिका निभाई थी।

Monsoon Session: संसद भवन में इन लोकसभा सांसदों को नहीं मिलेगी एंट्री, ये है वजह

दस घंटे पूछताछ के बाद किया गया गिरफ्तार-

उमर खालिद के पिता सईद कासिम रसूल इलियास ने बताया कि उमर खालिद से दिल्ली पुलिस कल दोपहर से पूछताछ कर रही है और उसके बाद रात ग्यारह बजे यूएपीए के तहत उसे गिरफ्तार कर लिया गया। उन्होंने कहा मेरे बेटे को दिल्ली हिंसा में फंसाया जा रहा है।

इससे पहले उत्तर पूर्वी दिल्ली हिंसा के मामले में 2 सितंबर को भी उमर खालिद को क्राइम ब्रांच ने तलब किया था। खालिद की गिरफ्तारी से पहले रविवार को दिल्ली पुलिस ने कुछ नामों का जिक्र अपने बयान में किया था। जो उत्तर पूर्वी दिल्ली हिंसा के सिलसिले में संदेह के घेरे में हैं। आपको बता दें, कि दिल्ली पुलिस ने कहा कि कई तरह के समूह पूर्वोत्तर दिल्ली दंगा मामलों की जांच की निष्पक्षता पर सवाल उठाने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफार्मों और अन्य ऑनलाइन पोर्टलों का उपयोग कर रहे हैं।

उत्तर प्रदेश में एक बार फिर हुई ऑनर किलिंग, लड़की के पिता ने प्रेमी जोड़े को मारी गोली

इससे पहले सेवानिवृत्त आईपीएस अधिकारी और मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर, गुजरात और पंजाब के पूर्व डीजीपी और रोमानिया में पूर्व भारतीय राजदूत जूलियो रिबेरो ने दिल्ली पुलिस कमिशनर एस एन श्रीवास्तव को पत्र लिखकर पूर्वोत्तर दिल्ली हिंसा मामले की जांच को लेकर सवाल उठाए।

-आईएएनएस

ताजा खबरें