Asian Boxing Championship: भारत के खाते में पहला स्वर्ण, पूजा रानी ने जीता फाइनल

एशियन बॉक्सिंग चैंपियनशिप (Asian Boxing Championship) में एक लंबे इंतजार के बाद पूजा रानी (Pooja Rani) ने भारत को स्वर्ण पदक (Gold Medal) दिला दिया है।

Updated On: May 31, 2021 10:51 IST

Dastak

Photo Souce- Social Media

अदिति गुप्ता

एशियन बॉक्सिंग चैंपियनशिप (Asian Boxing Championship) में एक लंबे इंतजार के बाद पूजा रानी (Pooja Rani) ने भारत को स्वर्ण पदक (Gold Medal) दिला दिया है। डिफेंडिंग चैंपियन पूजा रानी ने 81 किलोग्राम भार वर्ग के फाइनल में उज्बेकिस्तान की बॉक्सर को करारी मात देने के साथ-साथ भारत के लिए पहला स्वर्ण पदक भी हासिल कर लिया है।

टोक्यो ओलंपिक में 75 किलोग्राम भार वर्ग के लिए पहले ही क्वालीफाई कर चुकी पूजा ने फाइनल में दमदार प्रदर्शन किया। पूजा का मुकाबला उज्बेकिस्तान की मावलिया मोवलोनोवा से था, उन्होंने मावलुडा को एकतरफा अंदाज में हराकर ये खिताब अपने नाम कर लिया। उज्बेकिस्तान की बॉक्सर मावलुडा के पास पूजा के मुक्को का कोई जवाब नहीं था और अंत में फैसला 5-0 से पूजा के पक्ष में आया। स्वर्ण पदक के साथ साथ पूजा रानी को $10000 की इनामी राशि भी दी गई।

वहीं अगर हम बात करें अन्य महिला खिलाड़ियों की तो स्वर्ण पदक के साथ साथ भारत ने दो रजत पदक भी अपने नाम किए। 6 बार की वर्ल्ड चैंपियन रही दिग्गज बॉक्सर एमसी मैरी कॉम को फाइनल में शिकस्त का सामना करना पड़ा और रजत पदक से ही संतोष करना पड़ा।

दुबई में चल रही चैंपियनशिप में भारत को मैरीकॉम से स्वर्ण पदक की काफी उम्मीद थी लेकिन मैरी भारत के लिए छठवां स्वर्ण पदक जीतने में चूक गई। परंतु पूजा रानी ने बिना कोई गलती किए अपने पहले ही मैच में भारत को स्वर्ण पदक दिला दिया।

मैरी कॉम के अलावा 64 किलो वर्ग में भारत की लालबुतसाही को कजाखस्तान की मिलाना एस के हाथों 2-3 से हार झेलनी पड़ी और भारत को दूसरे रजत पदक से ही संतोष करना पड़ा। भारत की चौथी बॉक्सर अनुपमा भी स्वर्ण पदक जीतने में असफल रही, अनुपमा को 81 किलो वर्ग के फाइनल में कजाखस्तान की लज्जत कुंजेबयेवा से 3-2 से शिकस्त झेलनी पड़ी, उन्हें भी रजत पदक ही मिल सका।

वीडियो में देखें जीत पर पूजा रानी ने क्या कहा-

बाबा रामदेव ने कहा मैंने नहीं ली कोरोना वैक्सीन, उनके पास योग और आयुर्वेद का दोहरा आवरण

ताजा खबरें