IPL 2020: आलोचकों को बीसीसीआई कोषाध्यक्ष अरुण धूमल ने दिया करारा जवाब

आईपीएल (IPL 2020) को लेकर कई आलोचकों का कहना है कि बीसीसीआई (BCCI) केवल पैसे के चलते विश्व की सबसे महंगी लीग को करवाना चाहता है। अरुण धूमल (Arun Dhumal) ने जवाब दिया कि बोर्ड केवल पैसे के लिए आईपीएल को नहीं करवाना चाहता।

Updated On: Jun 12, 2020 18:11 IST

Dastak Web

Photo Source: Google

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) इस वर्ष इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) के को करवाने के लिए सभी विकल्पों पर काम कर रहा है। ऐसे में कई आलोचकों का कहना है कि बीसीसीआई केवल पैसे के चलते विश्व की सबसे महंगी लीग को करवाना चाहता है। लेकिन बीसीसीआई का कुछ और ही रुख है। बीसीसीआई के कोषाध्यक्ष अरुण धूमल (Arun Dhumal) ने आलोचकों को जवाब देते हुए कहा कि बोर्ड केवल पैसे के लिए आईपीएल को नहीं करवाना चाहता बल्कि आईपीएल से जुड़े उन तमाम लोगों की रोजी रोटी के लिए करवाना चाहता है। हम देश की इकोनॉमी को बूस्ट करने के साथ-साथ देश का मूड बदलने के लिए आईपीएल के आयोजन का करने के लिए उत्सुक हैं।

आईपीएल से चलती है लोगों की रोजी-रोटी-

बीसीसीआई के कोषाध्यक्ष अरुण धूमल ने कहा है कि आईपीएल केवल मनोरंजन नहीं है, बल्कि सैकड़ों लोगों का जीवन भी है, जो इस पर निर्भर करता है। उन्होंने कहा कि हम आईपीएल का आयोजन इसलिए भी करना चाहते हैं ताकि इस कोरोना संकट के बीच लोगों के मूड में थोड़ा बदलाव आए, क्योंकि लोग अभी भी डरे हुए हैं और कम से कम लाइव क्रिकेट एक्शन देखने से उनका मन बहल जाएगा।

आईपीएल केवल मनोरंजन नहीं, यह एक बिजनेस भी है-

द इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए अरुण धूमल ने कहा कि हां, यह निश्चित रूप से देश का मूड बदलने की कोशिश करेगा। कुछ लोग कहते हैं कि बीसीसीआई केवल पैसे के लिए आईपीएल के बारे सोच रही है और हमारी आलोचना करते है। लेकिन कोई भी इसके वित्तीय हिस्से को नहीं समझ रहा है। उन्होंने कहा यह केवल एंटरटेनमेंट के बारे में नहीं है। यह उस बिजनेस के बारे में जिससे कई लोगों को रोज़गार मिलता है और आईपीएल से कई क्षेत्रों में रोज़गार उत्पन्न होता है। यह कई क्षेत्रों में देश की अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देता है, जो हमारे टूर्नामेंट पर निर्भर करता है। उन्होंने कहा आगर आईपीएल होता है, तो जाहिर है खिलाड़ियों कि सुरक्षा हमारे लिए महत्वपूर्ण होगी।

आईपीएल से चलते हैं 2000 घरेलू मैच-

उन्होंने आगे कहा कि अगर इंडियन प्रीमियर लीग नहीं होता है, तो क्रिकेट एक्टिविटीज को बनाए रखना मुश्किल होगा। आईपीएल बीसीसीआई के लिए सबसे बड़ा राजस्व प्रमुख है। आईपीएल और क्रिकेट के कारण ही हम हर साल लगभग 2000 घरेलू मैचों का आयोजन करने में सक्षम हैं। उन्होंने कहा यह घरेलू और जूनियर से लेकर अधिकारियों तक हर क्रिकेटर के जीवन को प्रभावित करता है। इसीलिए बीसीसीआई इस टूर्नामेंट का आयोजन करना चाहती है।

IPL 2020: टूर्नामेंट खेलने के लिए तैयार, लेकिन इस फैसले का है इंतजार

टी-20 वर्ल्ड कप पर जल्द हो फैसला-

टी-20 वर्ल्ड कप को लेकर धूमल ने आईसीसी से जल्द फैसला लेने का आह्वान किया है, जिसका भविष्य अधर में लटका हुआ है। उन्होंने कहा कि अगर ऑस्ट्रेलिया इस वर्ष टी20 वर्ल्ड कप की मेजबानी करता है, तो जाहिर है हम इसे खेलेंगे। लेकिन अगर ऐसा नहीं होता है, इसके बारे में सभी को जल्द सूचित करना चाहिए ताकि हम दूसरी युजनाएं बना सकें। बात दें 10 जून को हुई आईसीसी बोर्ड मीटिंग में आईसीसी ने आने वाले सभी खेल आयोजनों पर अगले महीने तक फैसला टाल दिया है।

AP Inter Results 2020: फर्स्ट ईयर और सेकंड ईयर के नतीजे जारी, ऐसे चेक करें रिजल्ट

ताजा खबरें