ऐसी टेक्नोलॉजी जो बदल कर रख देगी दुनिया, पांए हैरान करने वाली जानकारी

देश लगातार हर क्षेत्र में प्रगति कर रहा है और ऐसे में आधुनिक टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में सबसे ज्यादा विकास हुआ है, पर सिर्फ यही नहीं भविष्य में कई ऐसी नई टेक्नोलॉजी का विकास होने वाला है, जो आपको हैरान कर देगा।

Updated On: Jan 3, 2023 15:32 IST

Dastak Web Team

Photo Source - Google

टेक्नोलॉजी की बात करें, तो पिछले कुछ समय से आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस(AI) का धीरे-धीरे लोगों के बीच चलन बढ़ा है। लोगों ने इसके इस्तेमाल में रुचि दिखाई है, आज टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में नए-नए विकास हो रहे हैं। हाल ही में ChatGPT लोगों के बीच काफी लोकप्रिय हुआ हैं, कुछ लोग इसे गूगल का ही विकल्प मान रहे हैं, क्योंकि इस पर लोग गूगल की तरह ही आसानी से किसी भी विषय पर जानकारी हासिल कर सकते हैं। यह आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का ही एक रूप है लेकिन आधुनिक टेक्नोलॉजी के क्षेत्र के बढ़ते विस्तार के कारण ऐसा नहीं कहा जा सकता,कि सिर्फ AI ही आने वाली टेक्नोलॉजी है,आने वाले समय में कई ऐसी टेक्नोलॉजी का विकास होने वाला है, जो आपको अचंभित कर देगा।

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का उपयोग कई क्षेत्रों में बढा है, इसके इस्तेमाल ने काम करने के तरीके को आसान बना दिया है। आने वाले समय में इसकी डिमांड और अधिक बढ़ेगी और इसका सिस्टम अपग्रेड होगा।

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के अलावा और कौन- सी टेक्नोलॉजी है,जो बदल देंगी दुनिया।

5G और IoT तकनीक

भारत में 5G लॉन्च हो चुका है ,पर अभी इसका उपयोग कुछ ही लोग कर रहे हैं। 5G के सभी लोगों तक पहुंच के बाद लोगों द्वारा अधिक इस्तेमाल करने से इंटरनेट ऑफ थिंग्स (IoT) का प्रयोग भी बढ़ेगा। IoT की वजह से रोबोट से होने वाली खेती, स्मार्ट सिटी,सेल्फ ड्राइविंग और हाईवे सिस्टम का डेवलपमेंट आसानी से हो जाएगा।यह व्यापार के क्षेत्र को आगे बढ़ाने में बहुत मददगार साबित होगा। इससे डाटा शेयरिंग में मदद मिलेगी।

ह्यूमन-कंप्यूटर इंटरफेस

ह्यूमन-कंप्यूटर इंटरफेस का आजकल बहुत इस्तेमाल किया जा रहा है, इसका सफल उदाहरण स्मार्ट वॉच और फिटनेस ट्रैकर है। आजकल हर व्यक्ति स्मार्ट वॉच की तरफ आकर्षित हो रहा है और इसका प्रयोग कर रहा है। ह्यूमन कंप्यूटर इंटरफेस से वेय लेबल और टेक्नोलॉजी को बनाने में मदद मिलती है। स्मार्टवॉच और फिटनेस ट्रैकर से हेल्थ रिलेटेड डाटा के साथ क्रियाकलापों से संबंधित डाटा को भी मापा जा सकता है।आने वाले समय में इसकी डिमांड और अधिक बढ़ेगी।

एक्सटेंडेड रियलिटी

यह वर्चुअल रियलिटी,ऑगमेंटेड रियलिटी और मिक्सड रियलिटी का शॉर्ट वर्जन है, इसका इस्तेमाल ब्रांड इंगेजमेंट को बूस्ट करने के लिए किया जाता है।इससे ज्यादा इंप्रेसिव डिजिटल एक्सपीरियंस यूजर मिलता है। इसका इस्तेमाल धीरे-धीरे शुरू हो गया है। मोबाइल बेस्ड एआर एक्सपीरियंस Pokemon Go ऐप से इसका अंदाजा लगाया जा सकता है, आगे आने वाले समय में मेटावस (XR) का इस्तेमाल दुनिया को ज्यादा एक्सप्लोर करने के लिए करेंगे।

Google pixel 7 Vs Apple iPhone 14 : कौन है सबसे बेहतर?

3D प्रिंटिंग

3D प्रिंटिंग का चलन आने वाले समय में काफी अधिक देखने को मिलेगा,इसे एडिटिव मैन्युफैक्चरिंग के तौर पर भी जाना जाता है। इससे किसी 3D ऑब्जेक्ट को डिजिटल फाइल से लेयर बाय लेयर क्रिएट किया जा सकता है। यह मैन्युफैक्चरिंग और दूसरी इंडस्ट्री के काम को पूरी तरह से बदल देगा।

ब्लॉकचेन

ब्लॉकचेन का इस्तेमाल आने वाले समय में डाटा स्टोर करने के लिए किया जा सकता है। इसके इस्तेमाल से रिकॉर्ड के खत्म होने या टेंपर होने की संभावना नहीं रहती है,इसका इस्तेमाल हॉस्पिटल या मेडिकल स्टोर में हेल्थ रिकॉर्ड को सुरक्षित करने के लिए किया जा सकता है। इससे यह फायदा होगा,कि कोई भी सरकारी या दूसरी संस्था डाटा को डिलीट नहीं कर सकती है और यह डाटा डिलीट भी नहीं हो सकता है। ब्लॉकचेन डाटा स्टोर रखने में महत्वपूर्ण रोल निभाती है।

व्हाट्सएप 31 दिसंबर से 49 स्मार्टफ़ोन के लिए खत्म कर रहा है अपना सपोर्ट

ताजा खबरें