समाजवादी पार्टी से नाता जोड़ सकते हैं बीएसपी के अम्बिका चौधरी

उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले बीएसपी के बड़े नेता अम्बिका चौधरी ने शनिवार को पार्टी छोड़ दी।

Updated On: Jun 19, 2021 16:32 IST

Dastak

उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) को एक और झटका देते हुए पार्टी के बड़े नेता अम्बिका चौधरी ने शनिवार को पार्टी छोड़ दी। मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक चौधरी समाजवादी पार्टी का हिस्सा हो सकते हैं।

अम्बिका ने बीएसपी से इस्तीफे की खबर पर अपने एक खत के जरिए मोहर लगाई है। जिसमें वो लिखते हैं:- विगत विधानसभा चुनाव से पूर्व जनवरी 2017 से में बहुजन समाजवादी पार्टी में शामिल होने के बाद में एक निष्ठावान कार्यकर्ता के रूप में पार्टी में अपनी सेवाएं दे रहा हूँ। मुझको जब भी पार्टी में कोई छोटा या बड़ा उत्तरदायित्व सौंपा गया उसका पूरी लग्न से मैंने निर्वाहन किया।

इस दौरान बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष आदरणीय बहन कुमारी मायावती एवं दल के सभी नेताओं का जो स्नेह और सम्मान मिला इसके लिए मैं कृतज्ञतापूर्वक आभार व्यक्त करता हूँ।

2019 में लोकसभा चुनाव के उपरांत अज्ञात कारणों से पार्टी की किसी मीटिंग में मुझे छोटा या बड़ा कोई उत्तरदायित्य नहीं सौंपा गया। इस स्तिथि में मैं अपने आपको पार्टी में उपेक्षित और अनुपयोगी पा रहा हूँ।

आज दिनांक 19 जून 2021 को मेरे पुत्र श्री आनंद चौधरी का आसन्न जिला पंचायत अध्यक्ष निर्वाचन में समाजवादी पार्टी द्वारा प्रतियाशी घोषित किया गया है। ऐसी स्तिथि में मेरी निष्ठा में कोई प्रश्नचिन्ह प्रस्तुत हो इसके पूर्व ही मैंने नैतिक कारणों से भी पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से अपना त्यागपत्र राष्ट्रीय अध्यक्ष बहन कुमारी मायावती जी को प्रेषित के दिया है।

अब इस खत से साफ हो जाता है कि अम्बिका चौधरी पार्टी में खुद को उपेक्षित महसूस कर रहे थे और उनके बेटे के जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार बनाए जाने के बाद वो नैतिक रूप से पार्टी से इस्तीफा दे रहे हैं। ऐसे में उनके फिर से समाजवादी पार्टी में शामिल होने की पूरी संभावनाएं हैं।

सीबीएसई ने सुप्रीम कोर्ट को बताया वो 12वीं का रिजल्ट किस आधार पर जारी करेगा, तारीख भी बताई

अम्बिका चौधरी मुलायम सिंह यादव के पूर्व सहयक रहे हैं। उन्होंने 2017 में बीएसपी जॉइन की थी। अखिलेश के नेतृत्व से नाराज चौधरी समाजवादी पार्टी छोड़ने का फैसला उस वक्त लेते हैं। चौधरी मुलायम सरकार में मंत्री भी रहे हैं।

Toyota Door Delivery: अगर आपके पास टोयोटा की कार है तो अब आप घर बैठे मंगा सकते हैं Parts

ताजा खबरें