कांग्रेस के लिए सिर्फ वोट बैंक हैं किसान, हमारे लिए अन्नदाता- पीएम नरेंद्र मोदी

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार यानी आज झारखंड और ओडिशा के दौरे पर हैं। मोदी एक दिन के इस दौरे में पहले झारखंड के पलामू पहुंचे, जहां उन्होंने कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया। कई परियोजनाओं का शिलान्यास करने के बाद कांग्रेस पार्टी पर हमला बोल दिया। मोदी ने कहा कि कांग्रेस के लिए किसान सिर्फ वोट बैंक हैं और हमारे लिए किसान अन्नदाता हैं। यही भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस में सबसे बड़ा अंतर है।

साथ ही, मोदी ने कहा कि कांग्रेस की सरकारों ने समय रहते किसान हितों की परियोजनाओं को पूरे कर दिया होता तो आज किसानों को कर्ज लेने की जरूरत नहीं पड़ती। पहले कांग्रेस सरकारों ने किसानों को कर्ज लेने पर मजबूर किया और आज कांग्रेस कर्जमाफी के नाम पर किसानों को गुमराह कर रही है।

मोदी ने अपनी सरकार आने के बाद किये कार्यों को गिनाते हुए कहा हमारी सरकार ने पांच साल से कम समय में 1 करोड़ 25 लाख घर बनाकर लोगों को दे दिया है। पहले की योजनाएं जो नामों के आधार पर चली वो आज जमीन पर दिखाई नहीं पड़ती हैं, हमारी सरकार नाम के झगड़ों में न पड़कर काम करने पर विश्वास करती है।

इतना ही नहीं, जनता को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि हमारी सरकार में दलालों और बिचौलियों की कोई जगह नहीं है, हम सरकार की योजनाओं के लाभार्थियों के खातों में सीधा पैसा जमा करके पारदर्शिता और ईमानदारी से कार्य कर रही है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र कहा कि देश में गरीबों को घर देने की जो योजना पहले थी उनमें एक खास परिवार के नाम की चिंता रहती थी। योजनाओं का लाभ पाने लिए नामदार के खास लोगों को दक्षिणा देनी होती थी, पर हमारे यहां दलालों के लिए कोई जगह नहीं है।

इससे पहले PM नरेंद्र मोदी ने झारखंड के पलामू में 2,391.36 करोड़ रुपये के मंडल बांध सहित कई परियोजनाओं की नींव रखी। जनसभा को संबोधित करने से पहले मोदी ने ‘प्रधानमंत्री आवास योजना’ के लाभार्थियों में से पांच को उनके मकानों की चाबी भी सौंपी। मंडल बांध परियोजना से पलामू और गढ़वा जिलों में 19,604 हेक्टेयर भूमि की सिंचाई में मदद मिलेगी। बांध पर काम 1972 में शुरू किया गया था, लेकिन 1993 में इसे रोक दिया गया। इसे लातेहार जिले के बरवाडीह ब्लॉक में उत्तरी कोयल नदी पर बनाया जाएगा। पूर्व सरकारों पर कटाक्ष करते हुए मोदी ने कहा कि उन्हें झारखंड के किसानों के हितों की परवाह नहीं थी, मंडल बांध परियोजना में देरी इसका सबूत है।

एमनेस्टी इंडिया ने किया नसीरुद्दीन शाह का वीडियो शेयर, इमरान हाशमी ने कहा- सबको अपने विचार रखने की आजादी

Leave a Reply