एमनेस्टी इंडिया ने किया नसीरुद्दीन शाह का वीडियो शेयर, इमरान हाशमी ने कहा- सबको अपने विचार रखने की आजादी

0

बॉलीवुड के एक्टर नसीरुद्दीन शाह बीते कई दिनों से अपने विवादित बयानों के चलते सुर्खियों में हैं। कुछ समय पहले उन्होंने बुलंदशहर हिंसा को लेकर अपना डर जाहिर किया था तो अब एमनेस्टी इंडिया का एक वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में नसीरुद्दीन संविधान, आजाद भारत की बात कर रहे हैं। उनके इस बयान पर एक्टर इमरान हाशमी ने अपनी प्रतिक्रिया दी है।

न्यूज़ एजेंसी एएनआई के मुताबिक़, इमरान ने कहा कि मैं अभी जो महसूस कर रहा हूं, वहीं कह रहा हूं। मुझे लगता है कि देश में सभी को अपने विचार रखने की आजादी है। मुझे मौजूदा कंट्रोवर्सी के बारे में ज्यादा कुछ पता नहीं है, इसलिए इस पर कुछ कहना गैर जिम्मेदाराना होगा।

एमनेस्टी इंडिया की तरफ से शेयर किये वीडियो में नसीरुद्दीन शाह ने कहा कि हमारे आजाद मुल्क का संविधान 26 नवंबर 1949 को ग्रहण किया गया। शुरू के ही सत्रों में उसके उसूल लागू कर दिए गए, जिनका मकसद ये था कि हर नागरिक को सामाजिक, राजनीतिक और आर्थिक न्याय मिल सके। सोचने की, बोलने की और किसी भी धर्म को मानने की या इबादत करने की आजादी हो।

नसीरुद्दीन ने आगे कहा कि हमारे मुल्क में जो लोग गरीबों के घरों को, जमीनों को और रोजगार को तबाह होने से बचाने की कोशिश करते हैं, करप्शन के खिलाफ आवाज उठाते हैं, ये लोग हमारे उसी संविधान की रखवाली कर रहे होते हैं। लेकिन अब हक के लिए आवाज उठाने वाले जेलों में बंद हैं। कलाकार, फनकार, शायर सबके काम पर रोक लगाई जा रही है। पत्रकारों को भी खामोश किया जा रहा है।

केरल में CPI-M विधायक एएन शमसीर के आवास पर बम से हमला

बता दें कि इससे पहले नसीरुद्दीन ने कहा था कि देश में इस वक्त खराब माहौल है। समाज में जहर फैला हुआ है। देश में गाय की जिंदगी एक पुलिस अफसर की जान से ज्यादा अहम हो गई है। इस बयान पर तमाम राजनीतिक दलों ने नसीरुद्दीन की आलोचना की थी।

Leave a Reply