पश्चिम बंगाल में पीएम मोदी बोले- अब समझ आया दीदी हिंसा पर क्यों उतर आई

0
West Bengal, PM Narendra Modi, Thakurnagar, Mamta Banerjee, Loksabha Election 2019, Rally
Photo : Twitter

पश्चिम बंगाल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चुनाव प्रचार का आगाज करते हुए ठाकुर नगर रैली में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर जमकर निशाना साधा। प्रधानमंत्री मोदी ने ममता बनर्जी पर बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या का आरोप लगाते हुए दावा किया कि वह बीजेपी को लेकर जनता के प्यार से वह डर गई हैं।

ठाकुर नगर में बीजेपी की रैली में भारी भीड़ देखकर पीएम मोदी ने कहा कि यह दृश्य देखने के बाद मुझे समझ में आ रहा है कि दीदी हिंसा पर क्यों उतर आई हैं। हमारे प्रति बंगाल की जनता के प्यार से डरकर लोकतंत्र के बचाव का नाटक करने वालें लोग निर्दोष लोगों की हत्या करने पर तुले हुए हैं।

ठाकुर नगर की रैली में पीएम मोदी ने कहा कि यह देश का दुर्भाग्य रहा कि आजादी के बाद भी अनेक दशकों तक गांवों की स्थिति पर उतना ध्यान नहीं दिया गया, जितना देना चाहिए था। यहां पश्चिम बंगाल में तो स्थिति और भी खराब है। हमारी सरकार हालात बदलने की कोशिश कर रही है। यहां की सरकारों ने कभी भी गांवों की तरफ ध्‍यान नहीं दिया। जो बीत गया सो बीत गया। नया भारत इस स्थिति में नहीं रह सकता है। साढ़े चार सालों से केंद्र की सरकार इस स्थिति को बदलने की ईमानदार कोशिश कर रही है।

पीएम मोदी ने कहा कि अभी कुछ राज्यों में कर्जमाफी के नाम पर किसानों से वोट मांगे गए। ऐसे किसानों की कर्जमाफी हो रही है, जिसने कर्ज लिया ही नहीं है। एमपी में 13 रुपये की कर्जमाफी हो रही है। राजस्थान में बहाना बनाया जा रहा है कि हमें पता नहीं था कि कर्जमाफी का बोझ इतना बड़ा है। कर्नाटक में किसानों के पीछे पुलिस लगा दी गई है।

इतना ही नहीं, प्रधानमंत्री ने कहा कि कल ऐतिहासिक बजट में पहली बार किसानों और कामगारों के लिए बहुत बड़ी योजनाओं का ऐलान किया गया। बजट में जिन योजनाओं की घोषणा की गई है, उनसे देश के 12 करोड़ से ज्यादा छोटे किसान परिवारों को 30-40 करोड़ श्रमिकों और 3 करोड़ से ज्यादा मध्यम वर्ग के परिवारों को सीधा लाभ मिलेगा।

प्रधानमंत्री ने इसके साथ ही कांग्रेस पर प्रहार करते हुए कहा कि कई बार किसानों के साथ कर्जमाफी की राजनीति कर उनकी आंखों में धूल झोंकी गई। चुनाव को देखते हुए कर्जमाफी करके वह किसानों का कुछ भला नहीं कर रहे थे। चंद किसानों को इसका लाभ मिलता था। छोटे किसान इंतजार करते रह जाते थे। जिनको कर्जमाफी का लाभ मिलता था, वे कर्जदार बन जाते थे।

गठबंधन ही बताता है, मोदी सरकार कितनी ताकतवर है- अमित शाह

प्रधानमंत्री ने बांग्लादेश से आए मटुआ समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि हिंदुस्तान आजाद होने के बाद देश के टुकड़े किए गए। सांप्रदायिक दुर्भावना से लोगों पर अत्याचार हुए। बांग्लादेश, पाकिस्तान से लोगों को भागकर आना पड़ा। हम नागरिकता का कानून लाए हैं। मैं आपको विश्वास दिलाना चाहता हूं कि संसद में यह कानून पारित होने दीजिए, इससे जनता को उनका अधिकार मिलेगा।

Leave a Reply