केजरीवाल के ईमानदारी का सर्टिफिकेट बांटने का काम मोदी ने लिया अपने कंधों पर

0
West Bengal, PM Narendra Modi, Thakurnagar, Mamta Banerjee, Loksabha Election 2019, Rally
Photo : Twitter

अजय चौधरी

अगर किसी को मोदी से कष्ट है तो वो भ्रष्ट है, ऐसी परिभाषाएं देश के प्रधानमंत्री खुद गढ़ रहे हैं। लगता है प्रधानमंत्री ने केजरीवाल वाला ईमानदारी का सर्टिफिकेट बांटने का काम अपने कंधों पर ले लिया है।

मतलब अगर किसी नगरिक को हमारे देश के प्रधानमंत्री अच्छे नहीं लगते, वो उनकी योजनाओं से सहमत नहीं है, उसके मत भिन्न हैं तो क्या वो भ्रष्ट है? ये कौनसी सरकार है जिसके सारे ही कदम अच्छे होते हैं, सुना था इंसान से गलती हो जाती है, इसमें क्या भगवान बैठे हैं? नहीं, दरअसल आंखे मूंद कर भगवान मान लिया गया है। अच्छे कामों की प्रशंसा के साथ अगर हम गलत कदमों की आलोचना नहीं करेंगे तो वो गलत कदम भी सही ही साबित होगा।

हो ये रहा है कि लोग आलोचनाओं से बचने लगे हैं। क्योकिं ऐसा करने पर उन्हें किसी दूसरी पार्टी का चमचा, पाकिस्तानी या फिर अब तो वो भ्रष्ट भी हो सकता है।

वीडियो: फरियादी से बोले खट्टर- अंदर करवा दूंगा, आगे से दिखाई मत देना

चुनाव नजदीक है, मुझे राजनीतिक पार्टियों से मतलब नहीं है। ऐसे हमले आपस मे और बढ़ेंगे लेकिन देश के नागरिकों को इसमें घसीट कर वो भी प्रधानमंत्री के पद पर बैठे व्यक्ति के द्वारा सही किया जा रहा है?

तमाम विवादों के बीच फ्रांस से भारत आए 2 राफेल विमान, जाने इसकी वजह

क्या इशारों इशारों में अब विचार रखने की स्वतंत्रता का आंकलन भ्रष्ट कहकर किया जाएगा, अब गली मोहल्ले से लेकर सोशल मीडिया तक पर भक्त ऐसे लोगों को भ्रष्ट घोषित करने में देर नहीं लगाएंगे

मोदी ने कुरुक्षेत्र में कहा था ” जो भ्रष्ट है उन्हें मोदी से कष्ट है”-

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हरियाणा के कुरुक्षेत्र में आयोजित नारी शक्ति समारोह में कहा था कि देश के हर ईमानदार व्यक्ति को मोदी पर भरोसा है लेकिन जो भ्रष्ट हैं उन्हें मोदी से कष्ट है।

“ये लेखक के निजी विचार हैं। इस आलेख में सभी सूचनाएं लेखक द्वारा दी गई हैं, जिन्हें ज्यों की त्यों प्रस्तुत किया गया हैं। इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति दस्तक इंडिया उत्तरदायी नहीं है।”

Leave a Reply