मुख्य सचिव से मारपीट मामला : AAP को मिली बड़ी राहत

0
Chief Secretary's assault case: AAP gets big relief
Photo : Google

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल और उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को वहां के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश के साथ मारपीट मामले में बड़ी राहत मिली है। आपको बता दे कि दिल्ली के पटियाला कोर्ट हाउस ने इन दोनों को जमानत दे दी है। कोर्ट में गुरुवार यानी आज ये दोनों व्यक्तिगत रूप से पेश हुए। उन्हें 50000 रुपये के मुचलके पर जमानत दी गई है। इस मामले की अगली सुनवाई 7 दिसंबर को होगी।

मामला ये था कि 19 फरवरी 2018 का है, जब केजरीवाल के आवास पर राशन कार्ड व अन्य मुद्दों पर बैठक के दौरान मुख्य सचिव अंशु प्रकाश के साथ हाथापाई की गई। अंशु प्रकाश का आरोप है कि इस दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया वहां मौजूद थे और वह तमाशा देखते रहे। इस घटना के बाद दिल्ली के आईएएएस अधिकारियों ने केजरीवाल सरकार और मंत्रियों से मिलना बंद कर दिया था। अधिकारियों के इस रुख को लेकर सीएम केजरीवाल ने अपने तीन मंत्रियों के साथ एलजी ऑफिस पर धरना दिया था।

इस मामले के आरोपी विधायक अमानतुल्लाह खान, प्रकाश जरवार, राजेश ऋषि, नितिन त्यागी, प्रवीण कुमार, अजय दूत, संजीव झा, ऋतू राज, राजेश गुप्ता, मदन लाल, दिनेश मोहनिया को भी है और इनको भी पटियाला हाउस कोर्ट ने जमानत देकर काफी बड़ी राहत दी है।

साथ ही, आपको बता दे कि कोर्ट ने उनके वकील की इस गुजारिश को भी स्वीकार कर लिया है, जिसमें विदेश जाने से पहले कोर्ट को बताने की जमानती शर्त को हटा दिया है। लेकिन विधायक प्रकाश जारवाल और अमानतुल्लाह खान को देश छोड़ने से पहले कोर्ट से इजाजत लेनी होगी। मुख्य सचिव अंशु प्रकाश से मारपीट के मामले में इन्हीं दो विधायकों को दिल्ली पुलिस की तरफ से फरवरी में गिरफ्तार किया गया था हालांकि बाद में हाईकोर्ट ने दोनों को जमानत दे दी थी।

Leave a Reply