भारत ने रचा इतिहास, टीम इंडिया ने सीरीज 2-1 से जीती  

0

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच होने वाले सिडनी टेस्ट मैच में इंडिया टीम की जीत हुई है। आपको बता दे कि मैच को बारिश की वजह से ड्रॉ पर ही खत्म कर दिया गया। और टीम इंडिया ने चार मैचों की यह टेस्ट सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली है। ऐसा 71 साल बाद हुआ है कि टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया की धरती पर ही कंगारुओं को पटका है। इसी के साथ विराट कोहली ऑस्ट्रेलिया में सीरीज जीतने वाली पहले भारतीय और साथ ही पहले एशियाई कप्तान बन गए हैं।

भारत और ऑस्ट्रेलिया की बीच इस सीरीज़ का पहला टेस्ट मैच एडिलेड में खेला गया था। इस मैच में को भारत ने 31 रन से जीता। दूसरे टेस्ट मैच पर्थ में खेला गया और इस मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को मात देकर सीरीज़ को 1-1 की बराबरी पर ला खड़ा किया। इसके बाद मेलबर्न में बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच खेला गया। इस तीसरे मुकाबले में कोहली की विराट सेना ने अपनी बेहतरीन प्रदर्शन से कंगारुओं को चारों खाने चित करते हुए सीरीज़ में 2-1 की बढ़त बना ली। इस सीरीज़ का चौथा और आखिरी टेस्ट मैच सिडनी में शुरू हुआ। इस मुकाबले में भी भारतीय टीम ने उम्दा प्रदर्शन करते हुए कंगारुओं पर शिकंज़ा कस दिया था, लेकिन खराब रोशनी और बारिश ने कंगारुओं को 3-1 से शर्मसार होने से बचा लिया और सीरीज़ का अंत 2-1 की स्कोरलाइन के साथ हुआ।

आने वाले लोकसभा चुनावों में कांग्रेस और बीजेपी को वोट न दे- दिल्ली मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल

इतना ही नहीं, सिडनी टेस्ट में 193 रन बनाने वाले चेतेश्वर पुजारा मैन ऑफ द मैच रहे, जबकि मैन ऑफ द सीरीज का अवॉर्ड भी उन्हीं को मिला। पुजारा ने चार टेस्ट मैचों की सीरीज में कुल 521 रन बनाए।

आपको बता दें कि भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया में पहली टेस्ट सीरीज साल 1947 में आजादी के बाद लाला अमरनाथ की कप्तानी में खेली थी। उस दौरे पर भारत को कंगारू टीम ने 5 मैचों की टेस्ट सीरीज में 4-0 से शिकस्त दी थी। भारत तब से लेकर अब जाकर ऑस्ट्रेलिया में कोई टेस्ट सीरीज जीतने में सफल रहा है। 1947 दौरे को मिलाकर भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया में कुल 12 टेस्ट सीरीज खेली है। जिनमें से उन्हें 8 सीरीज में कंगारू टीम से शिकस्त मिली है। भारत 1980-81, 1985-86, 2003-04 में 3 सीरीज ड्रॉ करवाने में कामयाब रहा है और अब 2018-19 में भारत ने पहली बार ऑस्ट्रेलिया को उसके घर में पीटकर 1 टेस्ट सीरीज अपने नाम कर ली।

Leave a Reply