विपक्षियों के बीच पीएम चेहरा बनने के लिए धरना कर रही है ममता बनर्जी- अरुण जेटली

0
Pulwana Terror attack, Custom Duty, Pakistan, MFN, CRPF jawan,
Photo : Twitter

कोलकाता में सीबीआई और ममता बनर्जी के बीच चल रही लड़ाई तीसरे दिन भी जारी है। इसी के चलते केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने ममता बनर्जी पर हमला बोल दिया। जेटली ने कहा कि ममता बनर्जी विपक्ष का पीएम चेहरा बनने के लिए ‘धरने का ड्रामा’ कर रही हैं।

इतना ही नहीं, जेटली ने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा है कि कोलकाता पुलिस कमिश्नर से पूछताछ के लिए गई सीबीआई टीम को रोकने में ममता बनर्जी ने जो जल्दबाजी में प्रतिक्रिया दी, उससे कई मुद्दे जनता के बीच चर्चा के लिए आ गए हैं। उन्होंने कहा है कि सबसे महत्वपूर्ण यह है कि एक क्लेपटोक्रेट क्लब (एक ऐसा शासक जो अपनी ताकत के इस्तेमाल से देश के संसाधनों का दोहन करता है) भारत पर शासन करना चाहता है।

साथ ही, जेटली ने अपने फेसबुक पोस्ट में चिटफंड घोटाले और इसकी जांच पर भी विस्तार से लिखा है। जेटली ने कहा है कि यह मामला 2012-13 में सामने आया था। इस मामले की जांच को सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई को सौंपा था। सीबीआई ने कई लोगों को गिरफ्तार किया, तो कई अभी बेल पर हैं।

ब्रिटेन सरकार से भारत प्रत्यर्पण की मंजूरी पर बोला माल्या, फैसले के खिलाफ अपील करूंगा

जेटली ने लिखा है कि हमारे संविधान में केंद्र और राज्य सरकार के बीच काम करने के तरीके को साफ तौर पर लिखा गया है। अरुण जेटली के मुताबिक, देश में कई केंद्रीय एजेंसी और संस्थाएं हैं जो राज्यों में जांच करती हैं।

Posted by Arun Jaitley on Monday, February 4, 2019

उन्होंने पूछा है कि क्या इनकम टैक्स विभाग को एक राज्य सरकार टैक्स वसूलने से रोक सकती है, क्या कोई राज्य सरकार एनआईए को उस राज्य में मौजूद आतंकवादियों को पकड़ने से रोक सकती है, क्या कोई राज्य सरकार ईडी को उस राज्य में मौजूद स्मगलर और मनी लॉन्ड्रिंग करने वालों की जांच करने और उसे गिरफ्तार करने से रोक सकती है? जेटली ने लिखा है कि इसका उत्तर बिल्कुल ना है।

आलिया भट्ट की कार्बन कॉपी है ये लड़की, एक्टिंग में भी आलिया से कम नहीं

जेटली ने साफ कहा है कि यह एक ऐसा मामला है जिसमें राज्य ही देश के संघीय ढांचे पर हमला कर रहा है। उन्होंने लिखा है कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर जांच करने गई केंद्रीय एजेंसी को रोकना देश के संघीय ढांचे पर सीधा प्रहार है।

Leave a Reply