गिरिराज सिंह ने अपने देशद्रोही सर्टिफिकेट को छुपाने के लिए किया ये काम

0

भाजपा सांसद गिरिराज सिंह ने खुद ही अपने बयान में फंसे और और इस फंसे जाल से बाहर निकलने के लिए उन्होंने जबरदस्त दाव पेंच चले लेकिन वो नहीं बच पाए। गिरिराज ने तो कमाल कर दिया जब अपने ही इस ट्वीट को छुपाने के लिए एक दिन में 55 से अधिक ट्वीट कर दिए हैं ताकि ढूंढने वाला बीच रास्ते से ही वापस लौट जाए। इनमें से अधिकतर रिट्वीट ही हैं, वैसे आमतौर पर मंत्री जी इतने ट्वीट नहीं करते। वो तो बस प्रधानमंत्री की रैली में न आने वालों को देशद्रोही बता देते हैं, पर बीमारी के कारण बेचारे खुद रैली में नहीं जा पाते। मंत्री जी के रिट्वीट किए गए अधिकतर ट्वीट महाशिवरात्रि के हैं और 90 प्रतिशत ट्वीट 10 मिनट के अंदर किए गए हैं। मंत्री जी को लगा होगा कि अब भगवान शिव ही हैं जो तुम्हें ट्रोल होने से बचा सकते हैं..

अब उनका वह पुराना बयान और रैली में शामिल न होने का ट्वीट दोनों ही सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। उन्हें लोगों द्वारा ट्रोल किया जा रहा है। बता दें, गिरिराज सिंह के इस बयान को लेकर एनडीए की सहयोगी दल जदयू ने आपत्ति जताई थी। इसके अलावा कांग्रेस और राजद ने भी बीजेपी पर निशाना साधा था।

बता दे कि पीएम नरेंद्र मोदी की 3 मार्च को हुई संकल्प रैली से पहले भाजपा सांसद गिरिराज सिंह ने कहा था कि जो भी इस रैली में नहीं आएगा वो देशद्रोही होगा। साथ ही कहा था कि इस रैली से पता चल जाएगा की कौन के साथ खड़ा है और कौन हिन्दुस्तान के साथ। लेकिन सबसे बड़े देशद्रोही तो खुद केन्द्रीय मंत्री गिरिराज ही निकले क्योंकि वो इस रैली में नहीं पंहुचे।

3 मार्च को गिरिराज ने एक ट्वीट कर बताया कि वह पीएम मोदी की 3 मार्च को हुई रैली से पहले ही अस्वस्थ हो गये, जिस कारण वो इस रैली में शामिल नहीं हो सकें। लेकिन उन्होंने मोदी की इस रैली को टीवी पर जरुर देखा है।

आतंकवादी अब समुद्र के रास्ते कर सकते है भारत पर हमला

Leave a Reply